लड़ाई का नया लेवल – ‘कंपनी पॉलिसी’

कुछ किस्से सुनाई दिये हैं जहां कुछ राष्ट्रवादी, हिन्दुत्ववादी युवाओं को लगभग किसी नौकरी में फाइनलाइज़ होने के बाद, उनकी फेसबुक प्रोफाइल देखकर रिजेक्ट किया गया है। ये किस्से यहाँ के हैं, विदेशों में यह अब नया नहीं है, वहाँ तो ये स्थापित बात है। कुछ दिनों पहले मैंने Roosh Valizadeh नाम के एक अमेरिका … Continue reading लड़ाई का नया लेवल – ‘कंपनी पॉलिसी’