कोई आश्चर्य नहीं कि हमने नेतृत्व के लिए सावरकर के बदले गाँधी को चुना

परसों जमशेदपुर में जुगसलाई में झड़प हो गई। इंडिया में झड़पें किससे होती हैं आप जानते ही हैं। चुनाव बूथ पर हुई धक्का मुक्की के बाद देखते देखते 200 दंगाई खड़े हो गए। मुँह पर कपड़ा बाँधे बिल्कुल कश्मीर स्टाइल में पत्थरबाज़ी होने लगी। मोहल्ले में खड़ी गाड़ियाँ तोड़ डालीं। एक RAF (रैपिड एक्शन फ़ोर्स) … Continue reading कोई आश्चर्य नहीं कि हमने नेतृत्व के लिए सावरकर के बदले गाँधी को चुना