भोपाल : ध्यान रहे दांव पर लगी है हिन्दुओं की इज़्ज़त

हिन्दुओं की अस्मिता की सीट बन चुकी भोपाल सीट। लेकिन जैसा कि हर बार होता आया है हिन्दू हमेशा अपनो से ही हारा है, जयचंदो से हारा है, आस्तीन के सांपो से हारा है।

ऐसे ही कुछ आस्तीन के साँप भोपाल में बहन साध्वी प्रज्ञा को हराने में जुट गए हैं। उन्हें डर है कि अगर साध्वी जीत गयीं तो यह सीट उनकी पक्की हो जाएगी, ऐसे में उन्हें व उनके बच्चों को चांस नही मिलेगा। उन्हें सीट जाने का डर है लेकिन जान जाने, हिन्दू अस्मिता जाने का डर नही, उन्हें खुद की चिंता है धर्म की चिंता नही है।

आपकी बहन साध्वी प्रज्ञा उस समय भी अकेली थी जब उन्हें बेल्टों से पीटा जा रहा था जब उनकी हड्डियां तोड़ी जा रही थी। आपकी बहन आज भी अकेली है जब हिंदुत्व को, उनकी शक्ति को तोड़ा जा रहा है।

आपकी बहन तब भी विधर्मियों से घिरी खड़ी थी, वो उन्हें यातनाएं दे कर राक्षसों की तरह हंस रहे थे, आपकी बहन आज भी जयचंदो के बीच अकेली खड़ी है, देश के गद्दार उनके हारने के इंतज़ार उसी प्रकार कर रहे हैं जैसे गिद्ध अपने शिकार के मरने का इंतज़ार करते हैं, उनकी खुशी छुपाये नहीं छुप रही।

बहन साध्वी प्रज्ञा को उस समय सिर्फ और सिर्फ एक ही सहारा था… भगवान का सहारा। बहन साध्वी प्रज्ञा को आज भी सिर्फ और सिर्फ एक ही सहारा है… आपका सहारा।

वो सिर्फ आपके भरोसे चुनाव के मैदान में उतरी हैं, ये चुनाव वो अपने लिए नहीं बल्कि आपके बच्चों के भविष्य के लिए लड़ रही हैं। इसलिए आप सब से मेरा विनम्र निवेदन हैं कि आप सब कल सारे काम छोड़ कर बहन साध्वी प्रज्ञा को वोट करने जाइये।

आपके बच्चों की कसम है सबसे पहले वोट देना है फिर कोई और काम, ये हिन्दू अस्मिता की लड़ाई है और इसकी सेनापति हैं बहन साध्वी प्रज्ञा, हर हाल में, हर प्रकार से उनका समर्थन करना है, शकुनि रूपी जयचंद अपनी बिसात बिछा चुके हैं कल पासें फेके जाएंगे… ध्यान रहे दांव पर हिन्दुओं की इज़्ज़त लगी है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं। इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यवहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति मेकिंग इंडिया (makingindiaonline.in) उत्तरदायी नहीं है। इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं। इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार मेकिंग इंडिया के नहीं हैं, तथा मेकिंग इंडिया उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है।

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY