बोलो जुबां केसरी : नीयत और नीति में कोई कमी नहीं है बन्दे में

मुझे ऐसा लगता है… 2014 से पहले पूरे विश्व भर में हिंदू टेरर (हिन्दू आतंकवाद) के चर्चे थे…! रोज़े की दावतें सरकारी कार्यालयों तक पहुंच गई थीं और पुलिस थाने लव जिहाद के मौलवी बने हुए थे। चीख चीख कर इस्लाम को अमनपसंद और हिंदुत्व को एकमात्र अपराध कहा जाता था… मोदी को वीज़ा तक … Continue reading बोलो जुबां केसरी : नीयत और नीति में कोई कमी नहीं है बन्दे में