दिनभर के प्रमुख समाचार एक साथ

मुख्य समाचार :

  • भारतीय वायु सेना ने सैन्‍य ठिकानों को निशाना बनाने की पाकिस्‍तान की कोशिश नाकाम की। पाकिस्‍तानी वायुसेना के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया।
  • भारत ने पाकिस्‍तान से उसकी हिरासत में मौजूद भारतीय पायलट की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा। पायलट को तत्‍काल सुरक्षित रिहा करने को कहा।
  • विपक्षी पार्टियों ने पाकिस्‍तान में आतंकी गिरोह जैश ए मोहम्‍मद के ठिकानों पर भारतीय वायुसेना की कार्रवाई की सराहना की।
  • अमरीका और ऑस्‍ट्रेलिया ने पाकिस्‍तान को उसकी जमीन से चलाये जा रहे आतंकी गुटों पर सार्थक कार्रवाई करने को कहा।
  • अमरीका और उत्‍तर कोरिया के बीच दूसरी शिखर बैठक वियतनाम में शुरू।
  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने युवाओं से देश को नयी ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए जोश के साथ कार्य करने का आह्वान किया।
  • विश्‍वकप निशानेबाजी में सौरभ चौधरी और मनु भाकर ने दस मीटर एयर पिस्‍टल मिक्‍स्‍ड स्‍पर्धा में स्‍वर्णपदक जीता।

समाचार विस्तार से :

भारत ने अपने सैनिक ठिकानों को निशाना बनाने की पाकिस्‍तान की कोशिशों को नाकाम कर दिया और पाकिस्‍तानी वायुसेना के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने आज नई दिल्‍ली में संवाददाताओं को बताया कि कल भारत की हवाई कार्रवाई के बाद पाकिस्‍तान ने आज सुबह अपने लड़ाकू विमानों से जवाबी कार्रवाई की, लेकिन भारत की सतर्कता और तैयारी के कारण उसकी यह कोशिश नाकाम हो गई।

प्रवक्‍ता ने बताया कि पाकिस्‍तानी सीमा में लोगों ने इस विमान को गिरते हुए देखा। प्रवक्‍ता ने कहा कि इस कार्रवाई में भारत ने दुर्भाग्‍यवश अपना एक मिग-21 विमान खोया है और वायु सेना का एक पायलट पाकिस्‍तान की हिरासत में है।

भारत ने आज पाकिस्‍तान के कार्यवाहक उच्‍चायुक्‍त को विदेश मंत्रालय में समन किया और भारतीय वायु सेना के पायलट की फौरन सुरक्षित वापसी की मांग की। एक बयान में विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्‍तान को यह स्‍पष्‍ट रूप से कह दिया गया है कि भारतीय सुरक्षा कर्मी को कोई नुकसान न पहुंचाया जाए।

भारत ने घायल रक्षा कर्मी को भद्दे तरीके से प्रदर्शित किए जाने पर भी कड़ी आपत्ति की है और कहा है कि यह अंतर्राष्‍ट्रीय मानवाधिकार कानून तथा जिनेवा संधि का उल्‍लंघन है।

भारत ने पाकिस्‍तान की आक्रमक कार्रवाई और पाकिस्‍तानी वायु सेना द्वारा भारतीय हवाई क्षेत्र का उल्‍लंघन करके सैन्‍य ठिकानों को निशाने बनाने के लिए भी पाकिस्‍तान के साथ कड़ा विरोध दर्ज कराया।

मंत्रालय ने कहा है कि इस तरह की कार्रवाई आतंकवादियों की साजिश को नाकाम करने के लिए भारत द्वारा कल बालाकोट में जैश-ए-मोहम्‍मद के आतंकी ठिकानों पर की गई कार्रवाई से एकदम भिन्‍न बताया है।


केन्‍द्रीय वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि भारत आतंकवाद के खिलाफ उसी तरह कार्रवाई करने में सक्षम है, जैसी 2011 में अमरीका ने ओसामा बिन लादेन के सफाए के लिए पाकिस्‍तान के एबटाबाद में की थी। श्री जेटली आज नई दिल्‍ली में एक समारोह को संबोधित कर रहे थे।

यूनाइटेड स्‍टेट्स की नेवल सील एबटाबाद से ओसामा बिन लादेन को ले गई तो क्‍या हम नहीं कर सकते। यह केवल कल्‍पना होती थी, इच्‍छा होती थी, एक फ्रस्‍ट्रेशन था, निराशा थी, आज तो वो भी संभव है।


विपक्षी पार्टियों ने पाकिस्‍तान में आतंकी गिरोह जैश-ए-मोहम्‍मद के ठिकाने पर भारतीय वायुसेना की हवाई कार्रवाई और उनकी वीरता तथा शौर्य की सराहना की।

आज नई दिल्‍ली में हुई 21 विपक्षी पार्टियों की बैठक के बाद जारी संयुक्‍त वक्‍तव्‍य में इन पार्टियों ने पुलवामा आतंकी हमले की निंदा की और शहीदों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए आतंकवाद को कुचलने में भारतीय सशस्‍त्र सेनाओं के साथ एकजुटता प्रदर्शित की।

लेकिन विपक्षी नेताओं ने सत्‍ताधारी पार्टी पर सशस्‍त्र सेनाओं के बलिदानों का राजनीतीकरण करने का आरोप लगाया।

कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि बैठक में पाकिस्‍तान के दुस्‍साहस की निंदा की गई और लापता हुए भारतीय विमान की सुरक्षा को लेकर गहरी चिंता व्‍यक्‍त की।

पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्‍टर मनमोहन सिंह, यू पी ए अध्‍यक्ष सोनिया गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी, आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री चन्‍द्रबाबू नायडू, मार्क्‍सवादी कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी और राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार सहित कई नेताओं ने बैठक में हिस्‍सा लिया।


अमरीका और ऑस्‍ट्रेलिया ने पाकिस्तान से जैश-ए-मोहम्‍मद और लश्‍कर-ए-तैयबा सहित उसकी ज़मीन से चलाए जा रहे सभी आतंकी गुटों पर तत्‍काल और सार्थक कार्रवाई करने को कहा है।

अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने पाकिस्तान के विदेशमंत्री शाह महमूद कुरैशी के साथ टेलीफोन पर बातचीत में किसी तरह की सैन्य कार्रवाई से बचने को कहा।

उधर, ऑस्‍ट्रेलिया की विदेश मंत्री मैरिस पायने ने कहा कि पाकिस्‍तान को जैश-ए-मोहम्‍मद पर प्रतिबंध लागू करने के लिए हरसंभव कदम उठाने चाहिए।


चीन और रूस ने आतंकी ठिकानों को नष्‍ट करने में भारत के साथ और अधिक समन्‍वय से काम करने पर सहमति व्‍यक्‍त की है। इसे पाकिस्‍तान को अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर अलग-थलग करने की भारत की कोशिशों की दिशा में एक महत्‍वपूर्ण उपलब्धि माना जा रहा है।

पूर्वी चीन स्थित वूजेन शहर में आज हुई रूस, भारत और चीन के विदेश मंत्रियों की बैठक में यह प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की गई।

तीनों राष्‍ट्रों ने एक संयुक्‍त वक्‍तव्‍य में कहा कि चरमपंथी संगठनों का समर्थन नहीं किया जा सकता। तीनों देशों और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए।

विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने चीन के विदेश मंत्री वांग यी और रूस के विदेशमंत्री सर्जेई लवरोव के साथ अंतर्राष्‍ट्रीय समुदाय से संयुक्‍त राष्‍ट्र के नेतृत्‍व में आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक सहयोग को मजबूत बनाने की अपील की।

श्रीमती स्‍वराज ने आतंकवाद को मानवता के लिए एक खतरा बताते हुए इसके उन्‍मूलन के कार्य में अंतर्राष्‍ट्रीय सहयोग की आवश्‍यकता पर जोर दिया।

Terrorism is a threat to humanity. इसलिये केवल इन तीन देशों की रणनीति से नहीं चलेगा। हमें वैश्‍विक नीति की जरूरत है। एक ग्‍लोबल कोऑपरेशन की जरूरत है। हमने एक तरफ यू एन लैड ग्‍लोबल काउंटर की टैरोरिज़म मैकैनिज़म को स्‍थापित करने की बात की और दूसरी तरफ भारत द्वारा प्रस्‍तावित सी सी आई टी कॉम्‍प्रीहैन्‍सिव कन्‍वेनशन ऑन इंटरनेशनल टैरोरिज़म को अंतिम रूप देकर अपनाने की भी बात की।


राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी-एनआईए ने पुलवामा आतंकी हमले और अलगाववादियों की आतंकी फंडिंग के सिलसिले में दक्षिण कश्‍मीर में 11 स्‍थानों पर एक साथ तलाशी अभियान चलाया। इनमें आतंकी हमलों के मुख्‍य आरोपी बताये जा रहे जैश ए मोहम्‍मद के आतंकी मुदस्सिर अहमद खान और सज्‍जाद भट के घर शामिल हैं।

सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार त्राल, अवन्तीपुरा और पुलवामा में जैश-ए-मोहम्‍मद के सक्रिय आतंकियों के घरों में भी तलाशी ली गई। आतंकी फंडिंग के मामले में दक्षिण कश्‍मीर के तीन अलगाववादी नेताओं के घरों में भी तलाशी ली गई।


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने युवाओं का आह्वान किया है कि वे देश को नई ऊंचाईओं तक पहुंचाने के लिए ऊंचे लक्ष्‍यों को लेकर कार्य करें। आज नई दिल्‍ली में 2019 के राष्‍ट्रीय युवा संसद पुरस्‍कार प्रदान करने के लिए आयोजित समारोह में उन्‍होंने कहा कि देश के नौजवानों को अपने सपनों को पूरा करने के लिए कार्य करना चाहिए और न्‍यू इंडिया के निर्माण में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिए।

युवा, नये आइडिया से फ्रैशनेस से, भरा हुआ होता है। उर्जा होती है। चुनौतियों और समस्‍याओं से निपटने में वो अधिक सक्षम होता है। साथियों, देश की, समाज की समस्‍याओं को सुलझाने के लिये आपकी जो एप्रोच है, वो न्‍यू इंडिया को और मजबूत करने वाली है।


आयकर विभाग ने जम्‍मू कश्‍मीर में आतंकियों को वित्‍तीय सहायता उपलब्‍ध कराने के सिलसिले में कश्‍मीर घाटी के चार स्‍थानों और राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली के तीन स्‍थानों पर छापे मारे हैं। कथित राष्ट्रविरोधी गतिविधियों के संबंध में एक जाने माने संगठन के प्रमुख और उसके सहयोगियों की तलाशी ली गई है।


वियतनाम की राजधानी हनोई में उत्‍तर कोरिया और अमरीका के शीर्ष नेताओं की दूसरी शिखर बैठक शुरू हुई।

श्री ट्रम्‍प ने कहा कि अगर उत्‍तर कोरिया परमाणु हथियारों के विकास का अपना कार्यक्रम छोड़ दे तो उसका भविष्‍य बहुत उज्‍जवल होगा।

पिछले वर्ष जून में सिंगापुर में दोनों नेताओं की हुई ऐतिहासिक शिखर बैठक हुई थी।


सौरभ चौधरी और मनु भाकर की जोड़ी ने आज विश्व कप निशानेबाजी की 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्‍स्‍ड टीम स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता। नई दिल्‍ली में युवा भारतीय निशानेबाजों ने 483 दशमलव 5 अंक के साथ स्वर्ण पदक हासिल किया।

दोनों ने क्वालीफिकेशन में विश्व रिकार्ड की बराबरी करते हुए फाइनल में जगह बनाई थी। भारत तीन स्वर्ण पदक लेकर हंगरी के साथ संयुक्त रूप से शीर्ष पर चल रहा है।


बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्‍स आज 68 अंक की गिरावट के साथ 35 हजार 905 पर बंद हुआ। निफ्टी भी 29 अंक की गिरावट आयी और यह दस हजार आठ सौ सात पर पहुंच गया।


रेलयात्री अब खाली सीटों के बारे में पूरी जानकारी चार्ट बनने के बाद भी ऑनलाइन प्राप्‍त कर सकेंगे।

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने आज नई दिल्‍ली में चार्ट की तैयारी के बाद खाली बर्थ की स्थिति दर्शाने और बुकिंग के लिए ऑनलाइन प्‍लेटफार्म का लोकार्पण किया। इससे उपभोक्‍ताओं को विभिन्‍न डिब्‍बों में उपलब्‍ध बर्थ की जानकारी चित्र के रूप में उपलब्‍ध होगी।


मेघालय के पूर्वी जयंतिया पहाड़ी जिले में एक कोयला खान में फंसे 15 मजदूरों में से एक और मजदूर का शव आज एन डी आर एफ और नौसेना के संयुक्‍त बचाव दल ने दो सौ फुट गहरी खान के भीतर से निकाल लिया।

इससे पहले, बचाव दल ने जनवरी में एक शव खान के अंदर से निकाला था। पिछले साल 13 दिसंबर को खान में पानी घुस जाने से 15 मजदूर उसके अंदर फंस गए थे। अन्‍य मजदूरों की तलाश का काम अब भी जारी है।

स्रोत : http://www.newsonair.com/

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY