अभिनन्दन इस राष्ट्र की सेना का ही होगा

अव्वल, पकिस्तान का फाइटर जेट फॉल्कन सिक्सटीन गिरा.

दूजा, महज एक दिन में पाकिस्तान का सामरिक निवेश कमसकम तीन सौ करोड़ पाकिस्तानी रुपये का है.

वहीं भारत का निवेश इससे दस गुणा कम है. सिर्फ पैंतीस करोड़ भारतीय रुपया!

यदि कोई वामी-कामी-खल-अज्ञानी कहता है कि पाकिस्तानी रुपया भारतीय रुपये से कमज़ोर है, ऐसे कैसे सीधा मापन कर सकते हैं?

यदि इस अवगुण से ही आप पाकिस्तान को डिफेंड करते हैं, तब भी इन दोनों निवेशों में कमसकम नौ गुणे का अंतर रहेगा.

और तीजा ये कि सिर्फ सात दिन की बात है, केवल सात दिन. उसके पश्चात् संयुक्त राष्ट्र संघ भारत को ये अधिकार देता है कि वो पकिस्तान पर जल-थल-नभ से आक्रमण करे.

न जाने कितने ही देशों की एंटी मिसाइल्स हाई अलर्ट पर हैं. यदि पकिस्तान परमाणु हमले के बारे में सोचता भी है तो अगली पीढ़ी को पाकिस्तान के बारे में बताने का जिम्मा किसी लेखक को लेना होगा.

पुस्तक का नाम होगा : “एक था पाकिस्तान!”

अंत में यही कहूंगा कि भावुक लोग स्वयं को नियंत्रित करें. कमसकम पाकिस्तानी हुकूमत से तो अधिक ही आईक्यू आप लोगों का होना चाहिए.

जब वे “निरे-मूर्ख” लोग भारत के पास मौजूद छिपे हुए स्रोतों को देख पा रहे हैं, तो भला आप क्यों नहीं!

अभिनन्दन इस राष्ट्र की सेना का ही होगा. यही इस पूरे मुआमले का आखिरी ध्रुव सत्य है.

जय हिन्द.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY