प्रधानमंत्री का प्रयागराज में कुम्भ स्नान

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी 24 फरवरी 2019 यानि बीते रविवार प्रयागराज में थे। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी, देश के दूसरे प्रधानमंत्री बन गए जिन्होंने कुम्भ मेले में डुबकी लगायी है। इससे पहले देश के पहले प्रधानमंत्री श्री जवाहरलाल नेहरू जी ने मौनी अमावस्या पर 1954 में कुम्भ में डुबकी लगायी थी।

प्रधानमंत्री जी के इस दौरे पर कई बातें ध्यान करने वाली रही, जिनमें से सबसे आकर्षक प्रधानमंत्री जी का स्वच्छता प्रहरियों के चरण धोना रहा।

प्रधानमंत्री जी का यह दौरा करीब ढाई घंटों का रहा। अपने इस दौरे पर उन्होंने पवित्र त्रिवेणी संगम में पुण्य की डुबकी लगायी, और देशवासियों के सुःख समृद्धि की कामना की। इसके साथ ही प्रधानमंत्री जी ने संगम तट से स्वच्छता का सन्देश दिया।

दिन रात एक करके काम करने वाले स्वच्छता प्रहरियों के चरण पखारकर उन्होंने जाति भेद को दूर करने का भी सन्देश दिया। उन्होंने कई कर्मचारियों को स्वच्छता सम्मान भी दिया। इससे पहले उन्होंने कुंभ का औपचारिक शुभारंभ 16 दिसंबर को किया था। संगम पर पूजा की थी और अक्षयवट को दर्शन के लिए खोले जाने का ऐलान किया था।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप राष्ट्रपति वैंकेया नायडू, प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई प्रदेशों के राज्यपाल और मुख्यमंत्रियों के संगम में डुबकी लगाने के बाद अब प्रधानमंत्री भी अपने मंत्रिमंडल के कई वरिष्ठ सहयोगियों के साथ कुंभनगरी आये।

वायुसेना के विशेष विमान से बमरौली में उतरने के बाद प्रधानमंत्री अपराह्न 2:30 बजे तीन हेलीकॉप्टर से कुंभ मेला के अरैल क्षेत्र स्थित डीपीएस हेलीपैड पहुंचें। फिर कार से नए यमुना पुल, परेड होते हुए संगम नोज आए। त्रिवेणी में पुण्य की डुबकी लगाने के बाद तीर्थराज का अभिषेक किया।

पंडित दीपू मिश्रा के नेतृत्व में पूजन संपन्न कराया। संगम स्नान-दान के बाद प्रधानमंत्री गंगा पंडाल गए और छह स्वच्छता कर्मियों, छह पुलिस कर्मियों, दो स्वच्छाग्रहियों व दो नाविकों को सम्मानित किया । स्वच्छता कर्मियों को बीमे का तोहफा भी दिया।

इसके बाद प्रधानमंत्री जी ने जनसभा को सम्बोधित किया, और उनके प्रति आभार व्यक्त किया। जनसभा के सम्बोधन में उन्होंने नाविकों, स्वच्छता प्रहरियों और महात्मा गाँधी जी के 150वें जन्म वर्ष पर ज़ोर दिया। उन्होंने नाविकों को श्री राम का सेवक व स्वयं को नाविकों का सेवक बताया।

राजनैतिक पंडित प्रधानमंत्री के इस दौरे को राजनीति से प्रेरित कृत्य बताएँगे, मगर यह सच्चाई है कि प्रधानमंत्री के इस दौरे से आने वाले समय में क्रांतिकारी बदलाव की शुरुआत होने वाली है।

सन्दर्भ:

https://www.jagran.com/uttar-pradesh/allahabad-city-modi-will-the-second-pm-to-take-bath-in-kumbh-sangam-18982581.html



Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY