दिनभर के प्रमुख समाचार एक साथ

मुख्य समाचार :

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने देश को आश्‍वासन दिया सुरक्षा बलों के सर्वोच्‍च बलिदान को व्‍यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा। कहा-सुरक्षा बलों को आतंकवाद से निपटने के लिए पूरी छूट दी गई है।
  • गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले के मद्देनजर जम्‍मू-कश्‍मीर में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की।
  • भारत ने पाकिस्‍तान से आतंकी गुट जैश ए मोहम्‍मद के खिलाफ तुरंत विश्‍वसनीय कार्रवाई करने को कहा। पाकिस्‍तान से अपने राजदूत को विचार-विमर्श के लिए स्‍वदेश बुलाया।
  • सरकार अंतर्राष्‍ट्रीय समुदाय से पाकिस्‍तान को पूरी तौर पर अलग-थलग करने के प्रयास करेगी। पड़ोसी देश को दिए गए तरजीह वाले देश का दर्जा समाप्‍त किया।
  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने उत्‍तर प्रदेश में झांसी में 20 हजार करोड़ रुपये से अधिक लागत की विभिन्‍न विकास परियोजनाओं का शुभारम्‍भ किया।
  • गुवाहाटी में सीनियर राष्‍ट्रीय बैडमिन्‍टन चैम्पियनशिप के फाइनल में पी वी सिंधु का मुकाबला सायना नेहवाल से और सौरभ वर्मा का सामना लक्ष्‍य सेन से।

समाचार विस्तार से :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को भरोसा दिलाया है कि पुलवामा में सुरक्षा बलों का सर्वोच्‍च बलिदान व्‍यर्थ नहीं जाएगा और इस हमले के जिम्‍मेदार लोगों को उनके किये की कड़ी सजा मिलेगी। उत्‍तर प्रदेश में झांसी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जवानों की मौत पर पूरा देश गहरे दुख और गुस्‍से में है। उन्‍होंने कहा कि आतंकवाद से निपटने के लिए सुरक्षा बलों को पूरी आजादी दी गई है।

हमारे वीर जवानों ने देश की रक्षा में अपने प्राणों की आहुति दी है। उनका बलिदान व्‍यर्थ नहीं जाएगा पुलवामा हमले के साजिशकर्ताओं को उनके किए की सजा जरूर मिलेगी। आतंकी संगठनों और उनके आकाओं ने जो हैवानियत दिखाई है उसका पूरा हिसाब किया जाएगा।

इससे पहले नई दिल्‍ली में एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने पाकिस्‍तान को चेतावनी दी कि पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हमले जैसी हरकतों से भारत कभी कमजोर नहीं होगा और इसके जिम्‍मेदार लोगों को बड़ी भारी कीमत चुकानी होगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सुरक्षाबलों को कोई भी कार्रवाई करने की पूरी छूट दी गई है और ऐसी घिनौनी आतंकी हरकत के लिए पक्‍के तौर पर सजा दी जाएगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि विश्‍व समुदाय में पूरी तरह अलग-थलग पड़ चुका भारत का पड़ोसी अगर सोचता है कि वह ऐसी साजिशों से भारत को अस्थिर कर सकता है तो यह उसकी बहुत बड़ी भूल है।

पूरे विश्‍व में अलग-थलग पड़ चुका हमारा पड़ोसी देश अगर यह समझता है कि जिस तरह के कृत्‍य वह कर रहा है, जिस तरह की साजिश रच रहा है उससे भारत में अस्थिरता पैदा करने में सफल हो जाएगा तो वो ख्‍वाब हमेशा-हमेशा के लिए छोड़ दे। वो कभी यह नहीं कर पाएगा और यह न कभी होने वाला है।

आतंकवाद के मुद्दे पर भारत का साथ दे रहे दुनिया के तमाम देशों के प्रति आभार व्‍यक्‍त करते हुए उन्‍होंने सभी राजनीतिक दलों से आपसी आरोप-प्रत्‍यारोप छोड़ कर एकजुट होने का आग्रह किया।

सभी से आह्वान करता हूं कि आतंकवाद के खिलाफ सभी मानवतावादी शक्तियों को एक होकर के लड़ना ही होगा। मानवतावादी शक्तियों ने एक होकर के आतंकवाद को परास्‍त करना ही होगा। आतंक से लड़ने के लिए जब सभी देश एक मत, एक स्‍वर, एक दिशा से चलेंगे तो आतंकवाद कुछ पल से ज्‍यादा नहीं टिक सकता है।

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहनसिंह ने कहा है कि भारत आतंकवाद से एकजुट होकर निपटेगा और आतंकी ताकतों को बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा।

कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बारे में उनकी पार्टी पूरी तरह सरकार और देश के सुरक्षाबलों के साथ है।

आतंकवाद देश को बांटने-तोड़ने की कोशिश करता है। इस देश को कोई भी शक्ति तोड़ नहीं सकती है, बांट नहीं सकती है। पूरा का पूरा अपोजिशन एक साथ हमारी सिक्‍योरिटी फोर्सिस के साथ और सरकार के साथ खड़ा है।


पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि शोक की इस घड़ी में देश को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होने की जरूरत है।

उपराष्‍ट्रपति एम. वैंकेया नायडू ने कहा कि पड़ोसी देश आतंकवाद को मदद और बढ़ावा दे रहा है।

सूचना और प्रसारण मंत्री कर्नल राज्‍यवर्द्धन राठौड़ ने कहा कि आतंकवाद की कोई भी कार्रवाई देश को आगे बढ़ने से रोक नहीं सकती है।


विश्‍वभर के अनेक देशों ने जम्‍मू-कश्‍मीर में पुलवामा के हुए आतंकवादी हमले की निंदा की है। अमरीका, रूस और फ्रांस ने कहा है कि वे आतंकवाद की चुनौती से निपटने में भारत के साथ हैं।

संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव अंतोनियो गुतरस ने हमले की कड़ी निंदा करते हुए दोषियों पर कानूनी कार्रवाई की अपील की है।


अमरीका ने पाकिस्‍तान को कड़ा संदेश देते हुए कहा है कि वह सभी आतंकी गुटों को अपना समर्थन तत्‍काल बन्‍द करे और उन्‍हें सुरक्षित पनाहगाह उपलब्‍ध ना कराए।

कल रात जारी एक बयान में व्‍हाइट हाऊस की प्रेस सचिव साराह सेंडर्स ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष में भारत और अमरीका के बीच सहयोग और समन्‍वय और सुदृढ़ किया जाएगा।


जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में आतंकी हमले के बाद समूचे जम्‍मू क्षेत्र में व्‍यापक विरोध प्रदर्शन को देखते हुए जम्‍मू शहर तथा इसके आस-पास के इलाकों में एहतियात के तौर पर कर्फ्यू लगा दिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि सेना से कानून-व्‍यवस्‍था बनाये रखने में प्रशासन की मदद करने और फ्लैग मार्च निकालने को कहा गया है। पुराने जम्‍मू शहर में विरोध प्रदर्शनों के दौरान हुई कुछ झड़पों के कारण कानून और व्‍यवस्‍था बिगड़ने की आशंका को देखते हुए कर्फ्यू लगाया गया है। क्षेत्र में स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है।


गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आतंकी हमले के मद्देनजर आज कश्‍मीर के बडगाम में सुरक्षा से जुड़े मुद्दों की समीक्षा की। एकीकृत मुख्‍यालय में आयोजित इस उच्‍च स्‍तरीय बैठक में राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक, केंद्रीय गृहसचिव राजीव गाबा, राज्‍यपाल के सलाहकार के०विजय कुमार और सुरक्षा तथा खुफिया एजेंसियों के सभी प्रमुख मौजूद थे।

श्री राजनाथ सिंह श्रीनगर के सैनिक अस्‍पताल भी गये और घायल जवानों का हाल-चाल पूछा।


विदेश सचिव विजय गोखले ने भारत में पाकिस्‍तान के उच्‍चायुक्‍त को विदेश मंत्रालय में आज बुलाया और पुलवामा में आतंकी हमले के सिलसिले में कड़ा विरोधपत्र सौंपा। श्री गोखले ने पाकिस्‍तान के उच्‍चायुक्‍त से आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्‍मद के खिलाफ तत्‍काल विश्‍वसनीय कार्रवाई करने को कहा। विदेश सचिव ने हमले को लेकर पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय के बयान को खारिज कर दिया।


भारत ने आतंकवादी हमले के मद्देनजर पाकिस्‍तान में अपने उच्‍चायुक्‍त अजय बिसारिया को नई दिल्‍ली बुलाया है। सूत्रों ने बताया कि उन्‍हें विचार-विमर्श के लिए इस्‍लामाबाद से दिल्‍ली बुलाया गया है।


भारत ने आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्‍तान का सबसे अधिक वरीयता वाले व्‍यापारिक साझेदार देश का दर्जा वापस ले लिया है। आज सुबह नई दिल्‍ली में प्रधानमंत्री की अध्‍यक्षता में मंत्रिमंडल की सुरक्षा संबंधी मामलों की समिति की बैठक में यह फैसला किया गया। केन्‍द्रीय मंत्री अरुण जेटली ने बैठक के बाद यह जानकारी दी।

इस घिनौने कृत्‍य में पाकिस्‍तानी हाथ होने के पक्‍के सबूत हैं। प्रधानमंत्री ने सीसीएस को अवगत कराया है कि पाकिस्‍तान को भारत की ओर से वर्षों पहले दिए गए ‘सबसे अनुकूल देश’ का दर्जा वापस ले लिया गया है।

श्री अरूण जेटली ने कहा विदेश मंत्रालय पाकिस्‍तान को अंतर्राष्‍ट्रीय समुदाय में पूरी तरह अलग-थलग करने के लिए हर संभव राजनयिक कदम उठाएगा।


इस बीच, पुलवामा आतंकी हमले के शहीदों को आज शाम नई दिल्ली के पालम हवाई अड्डे पर श्रद्धांजलि दी गई।

जम्मू-कश्मीर से सी०आर०पी०एफ० जवानों के पार्थिव शरीर को नई दिल्ली लाया गया। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शहीदों के पार्थिव शरीर को प्राप्त किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवानों के पार्थिव शरीर पर फूलमाला चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की।


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज उत्‍तर प्रदेश में झांसी में 20 हजार करोड़ रूपये से अधिक लागत की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया और आधारशिला रखी। श्री मोदी ने झांसी में रक्षा गलियारे की आधारशिला रखी। झांसी उत्‍तर प्रदेश रक्षा गलियारे के छह प्रमुख केन्‍द्रों में से एक है।

अब बुंदेलखंड को देश की सुरक्षा और विकास का कॉरीडोर बनाने का ध्यान शुरु हो चुका है। झांसी से आगरा तक 15 हाई डिफैंस कॉरीडोर देश को सशक्त करने के साथ ही बुंदेलखंड और उत्तर प्रदेश के युवाओं को रोजगार के नये अवसर भी उपलब्ध कराने वाला है।

प्रधानमंत्री ने पहाड़ी बांध आधुनिकीकरण परियोजना का भी उद्घाटन किया।

आज जिन विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है उससे बुंदेलखंड में औद्योगिकीकरण को गति मिलेगी और क्षेत्र में बेरोज़गारी कम होगी। लगभग नौ हजार करोड़ की लागत वाली पाइप पेयजल परियोजना से बुंदेलखंड के ग्रामीण इलाकों को काफी फायदा होगा। ये योजना झांसी, चित्रकूट, जालौन, हमीरपुर, ललितपुर, महोबा और बांदा जिलों में लागू होगी।

इसके अलावा अमृत योजना के तहत 600 करोड़ रुपये की लागत से झांसी के शहरी इलाकों के लिए भी पेयजल परियोजना पर काम शुरू होगा।


पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आज नई दिल्‍ली में एक समारोह में उप राष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू के चुनिंदा भाषणों की पुस्‍तक का विमोचन किया। इस पुस्‍तक में श्री वेंकेया नायडू के 92 भाषणों का संकलन है।

इस अवसर पर श्री मुखर्जी ने कहा कि ये भाषण सार्वजनिक जीवन में श्री नायडू के व्‍यापक अनुभवों को दर्शाते हैं।


सीनियर नेशनल बैडमिंटन चैंपियनशिप के फाइनल में सायना नेहवाल का मुकाबला पीवी सिन्धू से और सौरभ वर्मा का सामना लक्ष्‍य सेन से होगा।

गुवाहाटी में आज महिला सिंगल्‍स सेमीफाइनल में सिंधू ने असम की अस्मिता चालिहा को हराया। सायना ने नागपुर की क्वालीफायर वैष्णवी भाले को मात दी।

स्रोत : http://newsonair.com/

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY