दादी माँ के कायदे

1. झाड़ू उभो नही राखणो(झाडू खड़ा मत रखो)

2 हांडी रो लूण खतम नहीं होंणो चइजै(हंडिया का नमक खत्म नहीं होना चाहिए उससे पहले भर दो)

3 खाली घट्टी नही चलावणी (खाली चक्की नहीं चलाना चाहिए)

4 दिन बिस्या पछे नहीं जीमणो (सूरज डूबने से पहले जीमलो)

5 दिन बिस्या पछे झाड़ू नही बारनो (सूरज डूबने के बाद झाड़ू नहीं बुहारना चाहिए)

6 मिनख जायां पछे झाड़ू नहीं लगाना चाहिए (घर के आदमी काम पर निकलने के तुरंत बाद झाडू मत निकालो)

7 घर में सीटी नही बजावणी (घर में सीटी नहीं बजानी चाहिए )

8 सिंझ्या पड़ते ही दिया बत्ती कर दो (शाम के बाद दिया-बाती या लाइट जलनी चाहिए घर में)
9 पैलो बाटियो चूल्हे रो दूजी रोटी गाय री पछली रोटी कुतिये री (पहली छोटी रोटी चूल्हे की, दूसरी गाय की, अंतिम कुत्ते की।

10 भापणा खोसणा नही चइजै, भाग खुसे, पतुरिया खोसे भाग (भौंहे नहीं खोसनी चाहिए भाग्य खुसता है, खराब औरतें खुसवाती है)

11घरे आवोड़ो भूखो नही जावणो (घर आया व्यक्ति भूखा नहीं जाना चाहिए)

12 बांडे आयोड़े तिसे ने कदैइ तिसो नही काढणो (दरवाजे पर आए प्यासे व्यक्ति को कभी बगैर पानी पिलाए नहीं निकालना चाहिए)

13 सिंझ्या पड़ी लूण नहीं लावणो (शाम पड़ी नमक नहीं लाना चाहिए )

14 सिंझ्या पड़ी जावण नहीं लाना चाहिए (शाम को दही का जमावण नहीं लाना चाहिए)

15 सिंझ्या पड़ी रे बाद घर सूं बारे नही रेवणो (शाम होने के बाद घर से बाहर नहीं रहना चाहिए)

16 लुगई ने झांझरके उठणो चईजै (औरत को सूर्योदय से पूर्व उठना चाहिए )

17 उसके बाद घर की साफ-सफाई हो जानी चाहिए तथा स्नान आदि हो जाना चाहिए

18 यात्रा या सुभ काम जावते बगत दूध पी- र नही जावणो (यात्रा या शुभ कार्य जाते समय दूध पीकर नहीं जाना चाहिए

19 बेटी रे घर रो जीमणो तो दूर पाणी भी नही पीवणो (बेटी के घर खाना तो दूर पानी भी नहीं पीना चाहिए)

20 काळा गाभा नही पैरना चइजै(काले कपड़े नहीं पहनना चाहिए)

21 मंगल ने नख नही कतरना, विस्पत ने माथो नही धोवणो, सनियार ने तेल नही लगावणो (मंगल को नाखून नहीं काटना चाहिए व बृहस्पति को सिर नहीं धोना चाहिए और शनिवार को तेल नहीं लगाना चाहिए।

23 भिंटिजोड़ी लुगई ने चूल्हे, मिंदर, पळिण्डे रे हाथ नही लगाना चाहिए (रजस्वला को चूल्हे, मंदिर व परिंडा यानी पानीघर में हाथ नहीं लगाना चाहिए।

24 मेहंदी लगा र बारे नही जावणो (मेंहदी लगाकर बाहर नहीं जाना चाहिए)

25 मीठो खाअर रातरा नही निकलणो(मीठा खा कर रात को बाहर नहीं निकलना चाहिए)

– Whatsapp से

 

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY