कुम्भ 2019 में चर्चित 7 मुख्य बातें

हम अपने पिछले लेखों में आपको कुम्भ के बारे में और कुम्भ 2019 के बारे में बता चुके हैं, पवित्र कुम्भ मेले पर इस श्रृंखला में अब हमारा अगला लेख कुम्भ 2019 में चर्चित रहे कुछ विशेष ख़बरों पर है। आइये जानते हैं उनके बारे में।

33000 दिए अयोध्या के लिए जलाये जा रहे हैं

सबसे पहली चर्चित ख़बर अयोध्या को लेकर है। यूँ तो अयोध्या में राम मंदिर विवाद को लेकर अभी सुनवाई होनी बाकी है, मगर श्रद्धालु अपनी ओर से श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए आस्था में कोई कमी नहीं आने दे रहे। प्रयागराज में साधुओं के एक समूह ने 33000 दिए प्रतिदिन जलाने का संकल्प लिया है, और लगभग 11 लाख दिए जलाने का लक्ष्य लिया है। ये 11 लाख दिए अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण हों इसी आशा से जलाये जा रहे हैं।

चर्चित हस्तियां दिखीं कुम्भ में

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तो कुम्भ में पधारे ही हालाँकि उनके अलावा और भी प्रसिद्ध लोगों का कुम्भ मेले में आना हुआ। राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद अपनी पत्नी के साथ कुम्भ मेले में पहुंचे। डॉ राजेंद्र प्रसाद के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद जी कुम्भ में आने वाले पहले राष्ट्रपति हैं। माननीय राष्ट्रपति जी के साथ उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व राज्य के स्वास्थ्य मंत्री भी उपस्थित रहे। कुम्भ के प्रारंभिक दिन ही केंद्रीय कपडा मंत्री स्मृति ईरानी ने पवित्र डुबकी लगाई। मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्राविंद जगन्नाथ भी 24 जनवरी को कुम्भ मेले में आये, इसके अतिरिक्त उन्होंने अक्षय वट के भी दर्शन किये।

कुम्भ मेला स्वच्छता दूत

कुम्भ मेले में स्वच्छता के विषय पर सरकार विशेष ध्यान दे रही है। कुम्भ में गंदगी न फैले इसे सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने स्वच्छता दूतों का नियोजन किया है। ये स्वच्छता दूत 8 – 10 घंटे के बजाये 12 घंटे का समय दे हैं। ऐसे करीब 15000 स्वच्छता दूत दिन रात अलग अलग शिफ्ट में स्वच्छता की ज़िम्मेदारी उठा रहे हैं। यही नहीं त्रिवेणी संगम की स्वच्छता के लिए भी 2000 से अधिक स्वच्छ्प्रहरी तैनात किये गए हैं।

अक्षय वट वृक्ष और सरस्वती कूप

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यमुना नदी पर स्थित किले में 450 वर्ष से बंद अक्षयवट और सरस्वती कूप को गुरुवार को आम जनता के लिए कुम्भ शुरू होने से पूर्व खोल दिया। ऐसा माना जाता है कि प्रलय काल में भगवान विष्णु इसके एक पत्ते पर बाल मुकंद रूप में अपना अंगूठा चूसते हुए कमलवत शयन करते हैं। पृथ्वी को बचाने के लिए भगवान ब्रह्मा ने यहां पर एक बहुत बड़ा यज्ञ किया था। इस यज्ञ में वह स्वयं पुरोहित, भगवान विष्णु यजमान एवं भगवान शिव उस यज्ञ के देवता बने थे। तब अंत में तीनों देवताओं ने अपनी शक्ति पुंज के द्वारा पृथ्वी के पाप बोझ को हल्का करने के लिए एक ‘वृक्ष’ उत्पन्न किया। यह एक बरगद का वृक्ष था जिसे आज अक्षयवट के नाम से जाना जाता है। यह आज भी विद्यमान है।

अखाड़ा परिषद् में शामिल हुआ किन्नर अखाड़ा

किन्नरों के अधिकारों की लड़ाई लड़ने वाली लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी की अगुवाई में अप्रैल 2016 के कुंभ के दौरान पहली बार किन्नर अखाड़ा सामने आया। धीरे-धीरे 2017 तक किन्नर अखाड़े को पहचान और सम्मान मिला, भवानी उत्तर भारत के लिए अपने अखाड़े की महामंडलेश्वर बनीं। इस साल कुंभ से पहले, जूना अखाड़े ने किन्नर अखाड़े को अपने विंग के रूप में खुद में शामिल कर लिया और इस महीने शाही स्नान के लिए किन्नर अखाड़े को भी मौका मिला।

प्रवासी भारतीय भी पहुंचे कुम्भ में

प्रयागराज में कुम्भ मेले में 3200 प्रवासी भारतीयों ने भी शिरकत की। मॉरिशस के प्रधानमंत्री के साथ 3200 प्रवासी भारतीय, वाराणसी में प्रवासी भारतीय सम्मलेन में हिस्सा लेने के बाद कुम्भ मेला के दर्शन करने पहुंचे।

संस्कृति कुम्भ उत्तर प्रदेश सरकार और संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के माध्यम से कुम्भ परिसर में संस्कृति कुम्भ का भी आयोजन किया गया। इसका उद्घाटन प्रदेश के राज्यपाल माननीय राम नाईक ने किया। इसके माध्यम से कुम्भ में आये श्रद्धालुओं व पर्यटकों को भारत की भारतीय ऐतिहासिक धरोहर व परंपरा के दर्शन कराये जाएंगे; जिसमें स्थानीय पोषक, लोक नृत्य व् लोक गीत शामिल हैं। इसमें कुल 27 प्रदेशों की झलकियां मिलेंगी।

इनके अतिरिक्त कुम्भ मेले में पुस्तक प्रदर्शनी भी रखी गयी है। कुम्भ मेले के लिए प्रयागराज शहर को कई चित्रकारों की मदद से रंगा गया है। शहर की दीवारें, सड़कें, सेतु, भवन इत्यादि सभी सुन्दर चित्रकारी से रंगे गए हैं, जिसकी चर्चा विश्व भर में की गयी है।

सन्दर्भ :


https://khabar.ndtv.com/news/faith/kumbh-mela-2019-saints-light-33000-diyas-at-prayagrajs-kumbh-to-fulfil-ram-mandir-wish-1978669

https://khabar.ndtv.com/news/uttar-pradesh/kumbh-2019-smriti-irani-takes-holy-dip-in-prayagraj-triveni-1977817

http://news.statetimes.in/swachhta-doot-go-extra-mile-at-kumbh-mela-2019/

https://navbharattimes.indiatimes.com/video/news/kinnar-akhara-set-to-participate-in-kumbh-mela-for-first-time/videoshow/67497965.cms

http://hindi.webdunia.com/religious-article/akshay-vat-119010300051_1.html

https://www.financialexpress.com/india-news/kumbh-mela-2019-cm-yogi-visits-grand-old-akshay-vat-in-prayagraj-shrine-now-open-for-pilgrims-watch-video/1439988/

https://hs.news/pravasi-bhartiya-reaches-kumbh/
http://pib.nic.in/newsite/PrintRelease.aspx?relid=187404


Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY