ठंड रख, कर ले तैयारी… आ रहे हैं भगवाधारी

देखो भैया, ये News channel वालों के लिए News एक धंधा है।

ये लोग news के धंदे में हैं।

पहले तो ये समझ लो कि What is News?

News आखिर है क्या?

कुत्ते ने आदमी को काट लिया ये news नहीं है।

ये तो रूटीन है… सामान्य घटना… इसे पढ़ के कोई उत्तेजित नहीं होगा… किसी को कोई कौतूहल नहीं होगा। इसे सुन के कोई सनसनी नहीं फैलेगी। कुत्ते ने आदमी को काट लिया, ये सुन के घर घर चर्चा नहीं होगी।

अलबत्ता… अगर एक आदमी कुत्ते की तरह चार हाथ पैर पर चल रहा है… लोगों को देख के गुर्रा रहा… भौंक रहा… उसने कुछ लोगों को दौड़ा के काट भी लिया… Now this is Big News… ये है खबर… इसे कहते हैं News…

Doggy Boy आज फिर देखा गया… Doggy boy के कारण गांवों में दहशत… SIT गठित… High Alert घोषित…

ये है आज की news का चरित्र…

अब आज के राजनैतिक परिप्रेक्ष्य में… कांग्रेस मप्र, छग (छत्तीसगढ़) हारी… ये News नहीं है… this is routine… Congress का हारना News नहीं… कांग्रेस का मप्र छग जीतना बहुत बड़ी news है।

इन News Channels का पुराना रिकॉर्ड उठा के देखिए। जिन चुनावों में कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों का सूपड़ा साफ हो गया, वहां भी ये भाजपा को पीछे दिखा रहे थे।

Congress और विपक्ष को fight में बना के रखना इनकी मजबूरी है… इनके धंधे की मजबूरी… किरकिट के मैच में One Sided match कोई देखता है? कोई नहीं देखता…

दस ओवर बाकी है। 6 विकेट हाथ मे हैं। जीतने को 24 रन चाहिए। कौन देखेगा ऐसा मैच? रोमांच किसमें है?

8 balls 24 रन
7 balls 23 रन
6 ballस 20 रन

फिर एक विकेट गिर गया
फिर चौका मार दिया
फिर दो रन मार दिया
फिर लगातार दुइ ठो छक्का ठोक दिया।

अंतिम गेंद… जीतने को 3 रन चाहिए… इसे कहते हैं मैच… इसी मैच में ही TRP मिलती है। इसी में सबका पैसा वसूल होता है। फिर वो Channel हो, या खिलाड़ी, या फिर BCCI हो या विज्ञापनदाता… बिन TRP सब सून…

मीडिया की मजबूरी है, मैच को फँसा के रखना… Neck to Neck fight दिखाना… BJP को पीछे कर कांग्रेस और सेक्युलर दलों को बराबर दिखाना।

2017 का उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव याद कीजिये…

सारे चैनल BJP को हरवा रहे थे… BJP 324 ले आयी।

मीडिया 11 दिसंबर को दोपहर दो बजे तक भी आपको उलझा के रखेगा। उसका सिर्फ एक ही मक़सद है… आपको बांध के रखना। झूठ-सच बोल के… आपको बांधे रखना।

आज तक किसी चैनल या किसी ग्रुप ने अपने गलत, झूठ, मन गढ़न्त सर्वे के लिए माफी मांगी?

कोई चैनल अपने पुराने रिकॉर्ड की समीक्षा करता है?

Political Logic ये कहता है कि BJP मप्र छग जीतेगी और राजस्थान में कांग्रेस के आगे रहेगी।

शेष (Exit Poll) सब माया है… मीडिया की माया।

ठंड रखो। आ रहे हैं भगवाधारी।

क्या कहते हो राजस्थान?

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY