दिनभर के प्रमुख समाचार एक साथ

मुख्य समाचार :

– छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के पहले चरण में भारी मतदान।

– प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी में 24 अरब रूपये से अधिक लागत की कई विकास परियोजनाओं का उदघाटन किया। इन्‍हें नये भारत के नये दृष्टिकोण के जीवंत उदाहरण बताया।

– केंद्रीय सतर्कता आयोग ने सी.बी.आई. निदेशक आलोक कुमार वर्मा से जुड़े मामले की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट उच्चतम न्यायालय को सौंपी।

– केन्‍द्रीय मंत्री दिवंगत अनंत कुमार को श्रद्धाजंलि स्‍वरूप कर्नाटक सरकार ने तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की।

– खुदरा मुद्रास्‍फीति अक्‍तूबर माह में एक वर्ष में सबसे कम तीन दशमलव तीन-एक प्रतिशत हुई।

– पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का तेल उत्पादक देशों से तेल का मूल्‍य तय करते समय भारत जैसे बड़े उपभोक्ताओं के हित को ध्‍यान में रखने का आग्रह।

– कैलिफोर्निया के जंगल में लगी आग से मृतकों की संख्‍या 31 हुई।

समाचार विस्तार से :

छत्तीसगढ़ में आज विधानसभा चुनाव के पहले चरण में भारी मतदान हुआ। इस चरण में आठ जिलों के 18 निर्वाचन क्षेत्रों में वोट डाले गए। शाम पांच बजे तक 70 प्रतिशत मतदान रिकॉर्ड किया गया। निर्वाचन उपायुक्त उमेश सिन्हा ने नई दिल्ली में बताया कि 2013 के विधानसभा चुनाव में 75 दशमलव छह प्रतिशत मतदान हुआ था।

कुल मिलाकर मतदान शांतिपूर्वक रहा। इस चरण में एक सौ नब्बे उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्वक मतदान के लिए कड़े सुरक्षा प्रबंध किए गए।

सबसे अधिक 72% मतदान खुज्‍जी में और सबसे कम 33 प्रतिशत बीजापुर विधानसभा क्षेत्र में दर्ज किया गया। माओवाद से प्रभावित ऐसे दस विधानसभा क्षेत्र जहां मतदान दोपहर 3 बजे तक चला, वहां 52 प्रतिशत औसत मतदाता हुआ। जबकि बाकी 8 क्षेत्रों में जहां शाम पांच बजे तक वोट डाले गए वहां मतदान प्रतिशत लगभग 70 रहा।

कोंटा क्षेत्र के दोर्नापाल पोलिंग बूथ पर 100 वर्ष से अधिक उम्र की दो महिलाओं ने वोट डाले। सुकमा जिले के पालांबुडा और दंतेवाड़ा के मुलर तथा निलवाया तीन ऐसे मतदान केंद्र हैं जहां लगभग 15 वर्षों के बाद लोगों ने वोट डाले। कुछ स्‍थानों पर हाल में आत्मसमर्पण करने वाले माओवादियों ने भी मतदान में भाग लिया।

दूसरे और अंतिम चरण में विधानसभा की शेष 72 सीटों के चुनाव के लिए इस महीने की 20 तारीख को वोट डाले जाएंगे।

—–
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज उत्तर प्रदेश में वाराणसी में 24 अरब 13 करोड़ रुपये की लागत वाली कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इनमें गंगा नदी पर बना एक अंतरदेशीय जलमार्ग और दो राष्ट्रीय राजमार्ग शामिल हैं। इन दोनों राजमार्गों की कुल लंबाई 34 किलोमीटर है। इनके निर्माण पर 15 अरब रुपये से अधिक की लागत आई है।

प्रधानमंत्री ने अपने संसदीय क्षेत्र के एक दिन के दौरे के दौरान रामनगर में गंगा नदी पर इनलैण्ड मल्‍टी मॉडल टर्मिनल बंदरगाह का उद्घाटन किया। इसके निर्माण पर दो सौ सात करोड़ रुपये की लागत आई है।

यह भारतीय अंतरदेशीय जलमार्ग प्राधिकरण की जलमार्ग विकास परियोजना के तहत गंगा नदी के राष्ट्रीय जलमार्ग पर बनाए जाने वाले चार मल्‍टी मॉडल टर्मिनल में पहला है। इस परियोजना का उद्देश्य बड़े पोतों के नौवहन के लिए वाराणसी और हल्दिया के बीच के क्षेत्र में गंगा नदी का विकास करना है।

प्रधानमंत्री ने बाद में वाजिदपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि ये परियोजनाएं नये भारत के नये दृष्टिकोण के जीवंत उदाहरण हैं।

आजादी के बाद यह पहला अवसर है जब हम अपने नदी मार्ग को व्‍यापार के लिए, कारोबार के लिए इतने व्‍यापक स्‍तर पर इस्‍तेमाल करने में सक्षम हुए हैं। देश का यह पहला कंटेनर वेसल सिर्फ माल ढुलाई के प्रक्रिया का हिस्‍सा नहीं, न्‍यू इंडिया के न्‍यू विजन का ये जीता जागता सबूत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बाबतपुर हवाई अड्डा राजमार्ग और चार लेन की रिंग रोड के जरिए वाराणसी से, लखनऊ, सुल्तानपुर, अयोध्या, जौनपुर और राज्य के कई अन्य शहरों में आवाजाही आसान हो जाएगी। इससे वाराणसी और सारनाथ में पर्यटन उद्योग को बढ़ाने में मदद मिलेगी।

आज देश में सौ से ज्‍यादा नेशनल वाटर वेज पर काम हो रहा है। इस वाटर वेज से उत्‍तर प्रदेश ही नहीं बिहार, झारखण्‍ड और पश्‍चिम बंगाल यानी एक प्रकार से पूर्वी भारत के एक बड़े हिस्‍से को बहुत बड़ा फायदा होने वाला है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जलमार्ग संपर्क से, कालीन और अन्य कुटीर उद्योग उत्पादों तथा कृषि उत्पादों के, उत्तर प्रदेश से निर्यात में सहायता मिलेगी।

बनारस में जितनी परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्‍यास हुआ है उससे भी यहां के नौजवानों के लिए रोजगार के अनेक नए अवसर खुले हैं। अब देश सिर्फ और सिर्फ विकास की राजनीति चाहता है। जनता अपने फैसले विकास देखकर के करती है। वोट बैंक की राजनीति देखकर के नहीं करती है। बीते चार वर्षों में कितनी तेजी के साथ आधुनिक इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर का विकास हुआ है वो अब साफ-साफ नजर आता है।

—–
इससे पहले, छत्‍तीसगढ़ में बिलासपुर में एक चुनाव रैली को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि नोटबंदी से प्राप्‍त राशि का इस्‍तेमाल देश के विकास के लिए किया गया है। प्रधानमंत्री ने लोगों से कहा कि वे अपने मताधिकार का अधिक से अधिक इस्‍तेमाल करें।

—–
तेलंगाना और राजस्‍थान विधानसभा चुनाव के लिए आज अधिसूचना जारी होने के साथ ही नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। दोनों राज्‍यों में नामांकन पत्र 19 नवम्‍बर तक भरे जा सकते हैं और 22 नवम्‍बर तक नाम वापस लिये जा सकते हैं। सात दिसम्‍बर को मतदान होगा ।

—–
राजस्‍थान विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही आज पहले दिन 16 उम्‍मीदवारों ने 23 नामांकन पत्र दाखिल किए। दो सौ सदस्‍यों वाली विधानसभा के लिए भारतीय जनता पार्टी ने 131 उम्‍मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है। कांग्रेस की सूची आज रात जारी होने की संभावना है।

—–
मध्‍यप्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्रों की जांच की प्रक्रिया चल रही है। विधानसभा में 230 सीटों के लिए नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 9 नवम्‍बर थी। बुधवार तक नाम वापस लिये जा सकते हैं। राज्‍य में 28 नवम्‍बर को मतदान होगा।

—–
मिजोरम में चुनाव प्रचार जोरों पर है। इस बीच, मुख्‍य चुनाव अधिकारी एस बी शशांक को हटाने के लिए राज्‍य सरकार ने चुनाव आयोग को भारतीय प्रशासनिक सेवा के तीन अधिकारियों के नामों की सूची भेजी है। राज्‍य में 28 नवम्‍बर को एक ही चरण में 40 विधानसभा सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे।

—–

केंद्रीय सतर्कता आयोग ने केन्‍द्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो-सी बी आई के निदेशक आलोक कुमार वर्मा से जुड़े मामले की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट सीलबंद लिफाफे में आज उच्चतम न्यायालय में पेश कर दी।

प्रधान न्‍यायाधीश रंजन गोगोई और न्‍यायमूर्ति एस.के कौल की पीठ ने रिपोर्ट को न्‍यायालय के रिकॉर्ड में लेते हुए अगली सुनवाई 16 नवम्‍बर को तय की है।

—–
उच्‍चतम न्‍यायालय ने राम जन्‍म भूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में जल्द सुनवाई करने से इंकार कर दिया है। प्रधान न्‍यायाधीश रंजन गोगोई और न्‍यायमूर्ति एस के कौल की खण्‍डपीठ ने आज अखिल भारतीय हिन्‍दू महासभा की ओर से दायर एक याचिका को निरस्‍त करते हुए कहा कि यह मामला जनवरी में उचित खण्‍डपीठ द्वारा सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया जा चुका है।

—–
संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार के निधन पर विभिन्‍न राजनीतिक दलों के नेताओं ने शोक व्‍यक्‍त किया है। उनका पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए आज दिन भर उनके निवास पर रखा गया था।

कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री एच डी कुमारस्‍वामी और पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धरमैया के साथ-साथ अनेक नेताओं ने दिवंगत नेता के प्रति शोक व्‍यक्‍त किया। कर्नाटक सरकार ने तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। कल चामराजपेट शवदाह गृह में राजकीय सम्‍मान के साथ उनका अंतिम संस्‍कार किया जायेगा।

भाजपा के दिवंगत नेता अनंत कुमार का पार्थिव शरीर कल सुबह 8 बजे भाजपा के राज्य कार्यालय में लाया जाएगा। जहां पार्टी के कार्यकर्ता और उनके समर्थकों के लिए उनके अंतिम दर्शन की व्यवस्था की जाएगी। बाद में, श्री कुमार के पार्थिव शरीर को जनता के अंतिम दर्शन के लिए नेशनल कॉलेज मैदान में ले जाया जाएगा। उनका अंतिम संस्कार दोपहर में चामराजपेट श्मशान घाट पर किया जाएगा।

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी अपनी श्रद्धांजलि के लिए वहां पहुंच रहे हैं। दाह संस्‍कार के लिए सुरक्षा के व्‍यापक प्रबन्‍ध किए गए हैं।

—–
अक्‍तूबर महीने में रसोई से संबंधित खाद्य वस्‍तुओं, फलों और प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थों के सस्‍ता होने के कारण खुदरा मुद्रास्‍फीति की दर एक साल में सबसे कम- तीन दशमलव तीन एक प्रतिशत पर आ गई है।

आज जारी सरकारी आंकड़ों में दिखाया गया है कि सितम्‍बर 2018 में उपभोक्‍ता मूल्‍य सूचकांक आधारित मुद्रास्‍फीति की दर तीन दशमलव सात प्रतिशत थी और अक्‍तूबर 2017 में यह तीन दशमलव पांच आठ प्रतिशत थी।

—–
पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने तेल उत्‍पादक देशों से तेल की कीमत तय करते समय भारत जैसे बड़े उपभोक्‍ता देशों के हितों को ध्‍यान में रखने का आग्रह किया है।

श्री प्रधान आज अबूधाबी में अंतर्राष्‍ट्रीय पेट्रोलियम प्रदर्शनी और सम्‍मेलन के मंत्रीस्‍तरीय सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि ऊर्जा क्षेत्र में मूल्‍य के उतार-चढ़ाव को रोकने की जरूरत है।

प्रदर्शनी के इतर भारत और अबूधाबी नेशनल आयल कंपनी के बीच कर्नाटक में पडूर में कच्‍चे तेल के भण्‍डारण के बारे में एक समझौते पर हस्‍ताक्षर किए गये।

—–
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी बुधवार और बृहस्‍पतिवार को सिंगापुर में तेरहवें पूर्व एशिया शिखर सम्‍मेलन और अन्‍य संबंधित बैठकों में भाग लेंगे। श्री मोदी की यह दूसरी सिंगापुर यात्रा होगी और वे पांचवीं बार पूर्व एशिया शिखर सम्‍मेलन में भाग लेंगे।

वे पहले शासनाध्‍यक्ष होंगे जो फिन्‍टेक यानी वित्‍तीय और प्रौद्योगिकी उत्‍सव को संबोधित करेंगे। श्री मोदी दूसरी क्षेत्रीय व्‍यापक आर्थिक भागीदारी बैठक में भी भाग लेंगे जहां सदस्‍य देशों के नेता पिछली बैठकों में हुए समझौतों की प्रगति की समीक्षा करेंगे।

—–
भारत और मोरक्‍को के बीच आपराधिक मामलों में आपसी कानूनी सहयोग के सहमति पत्र पर हस्‍ताक्षर हुए। इससे दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग बढ़ेगा और संगठित अपराध पर रोक लगेगी तथा आतंकवादियों को वित्‍तीय मदद देने वालों की पहचान हो सकेगी। इस समझौते पर आज नई दिल्‍ली में केन्‍द्रीय गृह राज्‍यमंत्री किरेन रिजिजू और मोरक्‍को के कानून मंत्री महमूद औजर ने हस्‍ताक्षर किये।

—–
अमरीका में कैलिफोर्निया के जंगलों में लगी आग में मरने वालों की संख्‍या 31 हो गई है। अधिकारियों ने बताया है कि दो सौ से अधिक लोग अब भी लापता हैं। कैलिफोर्निया के जंगलों में लगी यह भीषण आग तेज हवाओं के कारण तेजी से फैल रही है। राष्‍ट्रपति डोनल्‍ड ट्रम्‍प से आग्रह किया है कि इसे एक बड़ी आपदा घोषित किया जाए।

—–
सरकार ने भारतीय प्रबंधन संस्थान कानून 2017 के तहत भारतीय प्रबंधन संस्थानों के लिए नये बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के गठन की प्रक्रिया को मंजूरी दे दी है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि यह उच्च शिक्षा में गुणवत्तापूर्ण संस्थानों को पूर्ण स्वायत्तता की दिशा में एक बड़ा कदम है।

—–
उच्‍चतम न्‍यायालय ने मणिपुर पुलिस के कुछ कर्मचारियों द्वारा दायर उस याचिका को खारिज कर दिया है जिसमें मणिपुर के फर्जी मुठभेड़ मामलों में खंडपीठ के न्‍यायाधीशों से इस मामले से अलग रहने की मांग की गई है। केन्‍द्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो-सीबीआई का विशेष जांच दल इन मामलों की जांच कर रहा है।

स्रोत : http://newsonair.com

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY