छठ महापर्व : नहाय खाय के दिन का खाना

आस्था के महापर्व छठ पूजा में स्वच्छता को विशेष महत्व दिया जाता है। चार दिन चलने वाले पर्व के दौरान भगवान के भोग के साथ-साथ व्रती के खान-पान के भी अपने नियम होते हैं। नहाय-खाय, खरना और संध्या अर्घ्य के पकवान इस प्रकार हैं।

(नहाय खाय के दिन का खाना) ‌‌

अरवा चावल, फ्राई चना‌ दाल, लौकी का सब्ज़ी, करेला भाजी, कद्दू का चक्का, ओल की चटनी, पापड़ – सलाद।

अरवा चावल
सामग्री

आधा किलो अरवा चावल (बासमती), आधे घंटे तक भिगोकर रख दें।

विधि

सबसे पहले आंच पर कुकर को चढ़ाएं।
चावल को धोकर छान लें,उसके बाद जितना चावल है उससे एक तिहाई ज़्यादा पानी लेकर कुकर में एक सीटी लगने तक पका लें।
आंच पर से उतार लें, कुकर की सीटी निकलने पर बर्तन में निकाल लें।

फ्राई चना दाल

सामग्री

आधा किलो चना दाल (बनाने से पहले भिगोया हुआ), एक टमाटर बारीक कटा, धनिया पत्ती एक चम्मच, अदरक एक चम्मच (क्रश किया हुआ), खड़ी लाल मिर्च एक पीस, तेजपत्ता एक पीस, खड़ा गरम मसाला, हल्दी पावडर, चीनी आधा चम्मच, कद्दू 50 ग्राम बारीक कटा।

विधि

सबसे पहले कुकर में दाल चढ़ाएं और दो-तीन‍‌‌ सीटी‌ लगने‌ तक पकाएं। आंच पर कड़ाही चढ़ाएं।

तेल, तेजपत्ता, लाल मिर्च, हल्दी, अदरक डालकर चलाएं।

टमाटर, कद्दू, नमक, चीनी डालकर मध्यम आंच पर भूनें।

चना दाल पानी सहित कड़ाही में पलट दें।

गरम‌ मसाला कूट कर डाल दें।

हरी धनिया ऊपर से डालें। फ्राईदाल तैयार है।

कद्दू-लौकी की सब्ज़ी

सामग्री

एक मीडियम लौकी, जीरा एक चम्मच, सरसो या राई – एक चौथाई चम्मच, सूखी लाल मिर्च 2-3 पीस, तेजपत्ता एक पीस, एक इंच अदरक (क्रश करके), एक टमाटर बारीक कटा, धनिया पत्ती एक चमम्च, हल्दी पाउडर एक चौथाई चम्मच, नमक स्वादानुसार, तेल आधा एक बड़ा चम्मच।

विधि

सबसे पहले कद्दू काटकर‌ कुकर में रखें, उसमें हल्दी पाउडर और स्वादानुसार नमक डालकर आंच पर पकने दें।

एक सीटी हो जाए तब आंच पर से उतार लें।

अब एक कड़ाही को गर्म करके उसमें तेल डालें, जीरा, तेजपत्ता, क्रश किया अदरक डालकर भूनें।

2-3 मिनट भूनने के बाद टमाटर डालकर दो मिनट तक भूनें, फिर उबले कद्दू को कड़ाही में पलट दें।

धनिया पत्ता डालकर कद्दू का पानी तेज आंच कर सूखाएं।

आलू-फूलगोभी की सब्ज़ी

सामग्री – आलू दो मध्यम आकार के (उबले व कटे हुए), फूलगोभी (कटी हुई), अदरक एक इंच (क्रश करके), टमाटर प्यूरी एक छोटी बाउल, साबुत गर्म मसाला(मात्रा अपनी इच्छानुसार), जीरा पाउडर आधा चम्मच, हिंग एक पिंच, धनिया पाउडर दो चम्मच, मिर्च पाउडर आधा चम्मच, हल्दी पाउडर, सरसो या राई का तेल चार चम्मच, नमक स्वादानुसार, धनिया पत्ता दो चम्मच बारीक कटा।

विधि

सबसे पहले आंच पर कड़ाही चढ़ाएं, उसमें थोड़ा सा नमक डालें साथ ही साथ फूलगोभी के टुकड़ों को डालकर 3-4 मिनट तक चलाते हुए भूनें और आंच से उतार लें।

आंच पर कुकर चढ़ाएं, टमाटर प्यूरी, गर्म मसाला, धनिया पत्ती, नमक फ्राई फूलगोभी को छोड़कर बाकी सभी चीज़ें पांच मिनट तक भूनें, फिर फूलगोभी, उसके ऊपर टमाटर प्यूरी, गर्म मसाला, धनिया पत्ती, आधा गिलास पानी डालकर एक सीटी लगने तक पका लें।

ओल की चटनी

ओल 100 ग्राम (उबले, छिले व मैश किए, अदरक – 2-3 चम्मच (क्रशकरके), हरी मिर्च 3-4 कटी हुई, अजवायन आधा चम्मच, हल्दी पाउडर एक चम्मच, नीबू का रस दो चम्मच, हिंग एक पिंच, करीपत्ता 4-5 पीस, एक कप उबला गर्म पानी, नमक स्वादानुसार, तेल दो बड़े चम्मच।

विधि

एक बड़ा बाउल लें, उसमें सभी सामग्री को डालकर मिलाकर धूप में रखें।
एक घंटे बाद धूप में से हटा दें।
इसे खाने के एक दिन पहले ही बना लें।

करेला की भाजी

सामग्री

करेला, हल्दी पाउडर, तेल, नमक स्वादानुसार।

विधि

आंच पर कड़ाही चढ़ाएं, उसमें तेल डालकर डीप गर्म करें।

इधर एक बाउल में नमक पानी और हल्दी मिक्स कर लें सभी करेले के पीस को इन मिश्रण में डुबोकर तल लें।

लौकी का चक्का

लौकी – 6-7 पतले पीस, बेसन 100 ग्राम, बेंकिंग सोडा चुटकीभर, चावल का आटा दो चम्मच, मिर्च पाउडर एक चौथाई चम्मच, हल्दी पाउडर, अजवायन आधा चम्मच, नमक स्वादानुसार, तलने के लिए- तेल।

विधि
एक बाउल में बेसन का बैटर तैयार करें। आंच पर कड़ाही को गरम
करें, उसमें तेल डालें।

उधर बैटर में सभी मसाले मिक्स करें।

गरम तेल में बैटर में लौकी के पीसेज को डुबोकर बादामी रंग का होने तक तल लें।

छठ पूजा : जीवनदायी सूर्य को आभार का अर्घ्य

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY