हिंदू कायरता के साइड इफेक्ट

क्या आप जानते हैं कि साम्यवादी विचारक वहीं पनपते हैं जहाँ कायर कौमों की कमी नहीं होती है? और इस कायरता का अभिजात्य स्वरूप है सेक्यूलरिज़्म। यह अभिजात्य चेष्टा जन्मजात नहीं होती है। यह फितरत कॉलेज की उपज है जिसके बारे में अकबर इलाहाबादी ने लिखा था कि – हम हर ऐसी किताबें काबिल ए … Continue reading हिंदू कायरता के साइड इफेक्ट