अपनी उत्सवप्रियता के साथ कर लेते हैं दु:खों का सामना, हमें हमारे हाल पर छोड़ दो

यह देश बीमारों का है। मनोरोगियों का। हिंदू बहुसंख्यक हैं। सबसे बड़े मनोरोगी इसी जमात के हैं। इतने बीमार हैं ये कि राह चलतों को बीमार कर दें। खड़े-खड़े। अपनी बीमारी में ये खुद ही सर्वज्ञाता बन बैठे हैं। इनको बिच्छू का मंत्र नहीं आता, ये सांप के बिल में हाथ देते हैं। फेसबुक ने … Continue reading अपनी उत्सवप्रियता के साथ कर लेते हैं दु:खों का सामना, हमें हमारे हाल पर छोड़ दो