शीघ्र ही देखने को मिल सकता है एक और लंकादहन

मैं दो बातें प्रायः कहता रहा हूँ जो किसी ने कभी नहीं मानीं। 1. कमर को मोड़ते हुए झुक कर भार मत उठाओ। कमर सीधी रख घुटने मोड़ कर उठाओ। कोई नहीं मानता और कटि पीड़ा से दुखी रहता है। 2. गाड़ी कच्चे में फंस जाय तो उसे जबरन आगे बढाने का हठ मत करो। … Continue reading शीघ्र ही देखने को मिल सकता है एक और लंकादहन