टीवी चैनलों का घटता स्तर : ज़िम्मेदार कौन दर्शक या मीडिया?

अपने देश में हिंदी भाषा के समाचार चैनल तथा स्थानीय भाषाओं के लोकल समाचार चैनलों में अधिकतर बहुत सतही तथा सनसनी खेज़ हैं. (एक दो अपवाद छोड़ कर). चूँकि सामजिक स्वभाव, ह्युमन साइकोलाजी और उन विषयों पर अध्यन का मेरा पुराना स्वभाव रहा है जिसमें आत्म आलोचना या नए नए समाजिक तथ्य खोजने के व्यापक … Continue reading टीवी चैनलों का घटता स्तर : ज़िम्मेदार कौन दर्शक या मीडिया?