दिनभर के प्रमुख समाचार एक साथ

मुख्य समाचार :

  • भारत और उज्‍बेकिस्‍तान सुरक्षा, आतंकवाद से निपटने और व्‍यापार सहित विभिन्‍न क्षेत्रों में द्विपक्षीय साझेदारी सुदृढ़ करने पर सहमत।
  • उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा – भारत 2019 तक खुले में शौच से मुक्‍त देश का दर्जा हासिल करने की दिशा में अग्रसर।
  • गृहमंत्री राजनाथ सिंह का राज्‍यों को रोहिंज्‍या शरणार्थियों के बायोमीट्रिक विवरण केन्‍द्र को भेजने का निर्देश।
  • संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव एन्‍तोनियो गुतेरश नई दिल्‍ली पहुंचे। वे महात्‍मा गांधी स्‍वच्‍छता अभियान में भाग लेंगे और प्रधानमंत्री को यूनाइटेड नेशन्स चैंपियंस ऑफ अर्थ सम्‍मान प्रदान करेंगे।
  • चिकित्‍सा के क्षेत्र में 2018 का नोबेल पुरस्‍कार दो इम्‍यूनोलॉजिस्‍ट – अमरीका के जेम्‍स एलिसन और जापान के तासुकु होंजो को देने की घोषणा।

समाचार विस्तार से :

भारत और उज्‍बेकिस्‍तान ने दीर्घकालीन द्विपक्षीय सहयोग सुदृढ़ करने के अपने इरादों की पुष्टि की है। उज्‍बेक राष्‍ट्रपति सफकात मिरजि़योयेव और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी राजनीतिक संबंधों, सुरक्षा, आतंकवाद से निपटने, व्‍यापार और निवेश, विज्ञान और टेक्‍नालॉजी, परमाणु ऊर्जा तथा सांस्‍कृतिक और शैक्षिक सम्‍पर्क तथा सामरिक साझेदारी और मजबूत करने पर सहमत हुए हैं।

दोनों नेताओं ने अफगानिस्‍तान की स्थिति पर भी चर्चा की और कहा कि वहां शांति और स्थिरता कायम करना समूचे क्षेत्र में सुरक्षा और स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए अत्‍यंत आवश्‍यक है।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और भारत यात्रा पर आए उज्‍बेकिस्‍तान के राष्‍ट्रपति सफकात मिरजियोयेव के बीच वार्ता के बाद एक संयुक्‍त वक्‍तव्‍य में अफगानिस्‍तान में वहां की जनता के स्‍वामित्‍व, नेतृत्‍व और नियंत्रण में वास्‍तविक शांति की दिशा में किये जा रहे प्रयासों के प्रति समर्थन व्‍यक्‍त किया।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने दोनों देशों के बीच रिश्‍तों को बेहतर बनाने की प्रतिबद्धता दोहराई। भारत और उज्‍बेकिस्‍तान के ऐतिहासिक संबंधों को और गहरा बनाने और हमारी स्‍ट्रटीजिक पार्टनर्शिप को और मजबूत करने के हमारे विजन और प्‍लान्‍स को हमने सांझा किया है। हमारे पुराने दोस्‍ताना रिश्‍तों को आज के संदर्भ में और भी समृद्ध करने के लिए हमने लोंग टर्म व्‍यू लिया है।

दोनों देश इस बात पर भी सहम‍त थे कि आतंकवाद के सभी रूपों और प्रकारों का मुकाबला करना अफगानिस्‍तान में चिरस्‍थायी शांति और सुरक्षा के लिए बहुत जरूरी है।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि दोनों देश व्‍यापार और निवेश के रिश्‍तों को बढाने पर सहमत हुए हैं। हमने 2020 तक एक बिलियन डॉलर का द्विपक्षिय व्‍यापार का टारगेट रखा है। हमने प्रि‍फेंशियल ट्रेड एग्रीमेंट पर निगोशिएशन शुरू करने का भी निर्णय लिया है। उज्‍बेकिस्‍तान के प्रस्‍ताव पर हमने उज्‍बेकिस्‍तान के सामाजिक क्षेत्रों में कम लागत के घरों और ऐसे और भी सोशल इंफ्राट्रक्‍चर प्रोजेक्‍ट के लिए 200 मिलियन डॉलर की लाइन ऑफ क्रेडिट प्रदान करने का निर्णय लिया है।

भारत और उज्‍बेकिस्‍तान में सूचना टेक्‍नोलॉजी के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर भी सहमत हुए हैं। ताशकंद और मुंबई के बीच सीधी विमान सेवा शुरू करने के बारे में भी सहमति बनी।

——–
उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कहा है कि भारत 2019 तक खुले में शौच से मुक्ति का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए सही दिशा में अग्रसर है। आज नई दिल्ली में महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उपराष्‍ट्रपति ने प्रसन्नता व्यक्त की कि स्वच्छ भारत मिशन जन आंदोलन बन गया है।

उन्होंने कहा कि खुले में शौच से मुक्ति महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर राष्ट्र का उनके प्रति सबसे बड़ा उपहार हो सकता है।

इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा कि गंगा नदी के किनारे बसे लगभग सभी गांव अब खुले में शौच से मुक्त हो गए हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन एक महत्वाकांक्षी कार्यक्रम है जिसका उद्देश्य भारत को स्वच्छ और खुले में शौच से मुक्त करना है।

——–
केंद्र सरकार के स्‍वच्‍छ भारत अभियान का उद्देश्य सभी शहरों की गलियों और सड़कों, छोटे शहरों और ग्रामीण इलाकों के बुनियादी ढांचे को साफ सुथरा रखना है। कर्नाटक भी इस महत्‍वपूर्ण कार्यक्रम के कार्यान्वयन की दिशा में काम कर रहा है। प्रस्तुत है ग्राउंड रिपोर्ट: –

कर्नाटक में मैसूरू जिले के टीनरसीपुरा तालुका के कट्टेपुरा गांव को खुले में शौच से मुक्‍त घोषित किया गया है। गांव की एक निवासी द्रक्‍शैनी बताती हैं कि कैसे शौचालय ने हर ग्रामीण के जीवन में स्‍वच्‍छता को प्रमुख बना दिया है।

मैं एक विद्यालय में रसोईये का काम करती हूं। पहले वहां शौचालय नहीं था। हमने शौचालय के लिए प्रयास किए। सरकार की मदद से अब यहां शौचालय है और साथ ही अन्‍य सभी आवश्‍यक सुविधाएं भी उपलब्‍ध हैं। इससे लड़कियों और महिलाओं को काफी सुविधा होती है।

कट्टेपुरा गांव के किसान प्रदीप कुमार बताते हैं कि खुले में शौच से मुक्‍त बनने से उनका गांव आस-पास के गांवों के लिए आदर्श बन गया।

मुझे गर्व है कि मेरा गांव खुले में शौच से मुक्‍त घोषित हो चुका है। सरकार और ग्राम पंचायत की सहायता से प्रत्‍येक घर में शौचालय बन रहे हैं। हमारे गांव के सभी घरो में शौचालय बनने से गांव की महिलाअें को खुले में शौच के लिए जाकर शर्मिंदा नहीं होना पडता। स्‍वच्‍छ भारत अभियान के अंतर्गत कर्नाटक में शौचालय बनाने का अभियान गति पकड़ चुका है।

——–
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राज्यों को रोहिंज्‍या शरणार्थियों के मुद्दे पर अगली कार्रवाई के लिए उनके बॉयोमीट्रिक विवरण केन्द्र को भेजने के लिए कहा है। गृहमंत्री कहा कि केंद्र सरकार, राज्‍य सरकारों द्वारा भेजे सभी तथ्यों और आंकड़ों की जांच करेगी और उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

गृहमंत्री आज कोलकाता में पूर्वी क्षेत्रीय समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में उन्‍होंने अंतर-राज्यीय संबंधों और माओवादी खतरों सहित सुरक्षा मामले से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की। श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्र, देश में माओवादी और अलगाववादी चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए उचित कदम उठा रहा है।

——–
संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतेरस आज भारत की तीन दिन की यात्रा पर नई दिल्ली पहुंचे। वे महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्‍य में आयोजित कार्यक्रमों में भाग लेंगे।

अपनी यात्रा के दौरान श्री गुतेरेस, वैश्विक चुनौतियों, जलवायु परिवर्तन और आतंकवाद जैसे मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित अन्य नेताओं से बातचीत करेंगे। अपनी यात्रा पर भारत पहुंचे संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने कहा कि आतंकवाद और हिंसक घटनाओं को रोकने में भारत, संयुक्त राष्ट्र का एक महत्वपूर्ण सहयोगी है।

श्री गुतेरेस, महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन में भाग लेंगे। वह ‘वैश्विक चुनौतियां, वैश्विक समाधान’ विषय पर इंडिया हेबीटेट सेंटर में व्याख्यान भी देंगे। श्री गुतेरेस ‘चैंपियंस ऑफ अर्थ’ समारोह में भाग लेंगे।

——–
सूचना और प्रसारण मंत्रालय महात्‍मा गांधी की 150वीं वर्षगांठ पर कल शाम से नई दिल्‍ली के पालिका बाजार में एक प्रदर्शनी आयोजित कर रहा है। प्रदर्शनी छह दिन चलेगी। इसका उदघाटन सूचना और प्रसारण मंत्री कर्नल राज्‍यवर्धन राठौड़ करेंगे।

——–
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को इस महीने की तीन तारीख को यूनाइटेड नेशन्स चैम्पियंस ऑफ द अर्थ पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनिया गुतेरेश नई दिल्ली में श्री मोदी को यह पुरस्कार प्रदान करेंगे।

मीडिया से बातचीत में विदेश मंत्रालय में आर्थिक मामलों के सचिव टी. एस. तिरूमूर्ति ने बताया कि पिछले साल न्यूयॉर्क में घोषित यह पुरस्कार संयुक्त राष्ट्र द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है। प्रधानमंत्री को यह पुरस्कार नीति संबंधी नेतृत्व श्रेणी में दिया जा रहा है।

——–
केन्‍द्र ने इंफ्रास्ट्रक्चर लीजिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (आई.एल. एंड एफ.एस.) के प्रबंधन को अपने नियंत्रण में ले लिया है। यह कंपनी समूह कर्जों की देनदारी में चूक कर रही थी, जिसका असर वित्‍तीय क्षेत्र पर पड़ने की आशंका थी। इसका नियंत्रण सरकार द्वारा लिये जाने के बाद इंफ्रास्ट्रक्चर लीजिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड कंपनी समूह के बोर्ड को भंग कर दिया गया है और उसकी जगह छह सदस्‍यों वाला नया बोर्ड बनाया गया है, जिसकी बैठक 8 अक्‍तूबर से पहले आयोजित की जाएगी।

——–
सरकार ने कहा है कि गैर-बैंकिंग वित्‍तीय कंपनी आई.एल. एंड एफ.एस. अपने कर्जों की अदायगी में आगे कोई और चूक न करे, इसके लिए उसे जरूरी लेन-देन करने की इजाजत दी जा रही है। एक बयान में वित्‍त मंत्रालय ने कहा है कि कंपनियां कर्ज की अदायगी में और चूक न करें, इसके लिए तत्‍काल आवश्‍यक कदम उठाने की जरूरत है।

——–
वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस की आलोचना करते हुए कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि वह कंपनी के बारे में सरकार के संभावित कदमों को लेकर दुष्‍प्रचार कर रही है। फेसबुक पर एक पोस्‍ट में श्री जेटली ने कांग्रेस पर यह भी आरोप लगाया कि वह एक विध्‍वंसकारी पार्टी है, जो भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था को नुकसान पहुंचाना चाहती है।

——–
चिकित्‍सा के क्षेत्र में वर्ष 2018 का नोबेल पुरस्‍कार कैंसर के उपचार में क्रांतिकारी तौर-तरीकों की खोज के लिए दो इम्‍यूनोलॉजिस्‍ट यानी रोग प्रतिरोध वैज्ञानिकों –अमरीका के जेम्‍स एलिसन और जापान के तासुकु होंजो को देने की घोषणा की गयी है। दोनों वैज्ञानिक करीब दस लाख डॉलर की राशि के साझेदार होंगे।

——–
निवृत्‍तमान प्रधान न्‍यायाधीश न्‍यायमूर्ति दीपक मिश्र ने कहा है कि भारतीय न्‍यायपालिका दुनिया की सबसे मजबूत न्‍यायपालिका है, जिसके पास अनगिनत मामलों को निपटने की क्षमता है।

आज नई दिल्‍ली में अपने विदाई समारोह में न्‍यायमूर्ति दीपक मिश्रा ने भारतीय न्‍यायपालिका को दुनिया की सबसे सुदृढ़ न्‍यायिक संस्‍था करार दिया। इस अवसर पर अपने भाषण में मनोनीत प्रधान न्‍यायाधीश न्‍यायमूर्ति रंजन गोगोई ने न्‍यायमूर्ति दीपक मिश्रा को एक असाधारण न्‍यायाधीश बताया।

——–
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद को आज उनके जन्‍म दिन पर बधाई दी है। श्री मोदी ने एक ट्वीट में कहा कि भारत उनके ज्ञान और विभिन्‍न विषयों पर दृष्टिकोण से बहुत लाभान्वित हुआ है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी राष्‍ट्रपति को जन्‍मदिन की बधाई दी है।

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY