दिनभर के प्रमुख समाचार एक साथ

मुख्य समाचार :

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में सात हजार करोड़ रुपये से अधिक की लागत की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया, श्री मोदी ने कहा – सरकार ग्रामीणों और गरीबों के जीवन में सुधार लाने के लिए प्रतिबद्ध।
  • श्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में कहा – भारत शांति के प्रति समर्पित, लेकिन अपने आत्‍मसम्‍मान और संप्रभुता की कीमत पर नहीं।
  • जम्‍मू-कश्‍मीर में एक पाकिस्‍तानी हेलीकॉप्‍टर ने पुंछ सेक्‍टर में नियंत्रण रेखा के पास भारतीय हवाई क्षेत्र का अतिक्रमण किया।
  • उजबेकिस्तान के राष्ट्रपति शफकत मिर्जियोयेव दो दिन के भारत दौरे पर नई दिल्‍ली पहुंचे।
  • मालदीव में पूर्व राष्‍ट्रपति मामून अब्‍दुल गयूम जमानत पर रिहा।
  • खेलों में, तीरंदाजी विश्‍व कप फाइनलस में भारत ने तीन पदक जीते।

समाचार विस्तार से :

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज गुजरात में सात हजार करोड़ रूपये से अधिक की अनेक विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया। इनमें मूंदड़ा बंदरगाह पर बना तरल पेट्रोलियम गैस यानी एलएनजी टर्मिनल, अंजार-मूंदडा बंदरगाह गैस ट्रांसमशिन परियोजना और पालनपुर-पाली-बाड़मेर गैस पाइप लाइन परियोजना शामिल है।

श्री मोदी ने कच्‍छ जिले में अंजार के निकट सतपार गांव से छह हजार करोड़ रुपये से अधिक की इन परियोजनाओं का लोकार्पण किया। इस अवसर पर एक जनसभा को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि ऊर्जा विकास के लिए बहुत आवश्‍यक है।

विकास के मूल में ऊर्जा अनिवार्य है। अगर देश को गरीबी से मुक्‍ति चाहिए। देश को आर्थिक विकास चाहिए। संपन्‍न समृद्ध राष्‍ट्र का निर्माण होना है, तो ऊर्जा अनिवार्य होती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार पंजाब और अन्‍य राज्‍यों में भी यूरिया के उत्‍पादन के लिए पाइप लाइन से एलएनजी उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।

आज हिंदुस्‍तान के एक छोर से दूसरे छोर तक पाइप लाइन से गैस पहुंचाने के लिए गैस ग्रिड को भी राष्‍ट्र को समर्पित किया जा रहा है। गुजरात की धरती से जो पाइप जा रही है। उससे गैस वहां-वहां पहुंच रहा है जहां से भविष्‍य में यूरिया के कारखाने चलेंगे। जो हिंदुस्‍तान के किसान को यूरिया के आवश्‍यकता की भर्तिपूर्ति की लिए काम आने वाले हैं।

श्री मोदी ने कहा कि सरकार ग्रामीणों और गरीबों के जीवन में सुधार लाने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रधानमंत्री ने आज शाम राजकोट में महात्‍मा गांधी के जीवन और कार्यों को प्रदर्शित करने वाला एक संग्रहालय राष्‍ट्र को समर्पित किया।

इससे पहले दिन में प्रधानमंत्री ने एक हजार एक सौ बीस करोड़ रुपये लागत की अमूल डेयरी की छह परियोजनाओं का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने 11 किसानों के मुजकुंआ, सौर ऊर्जा सहकारी समूह का भी उद्घाटन किया। इसका उद्देश्‍य अतिरिक्‍त बिजली कंपनी को बेचकर किसानों की आय दोगुनी करना है। उन्‍होंने वीडियों कांफ्रेंसिंग के जरिये पश्चिम बंगाल के कोलकाता में अमूल डेयरी के एक संयत्र की आधारशिला भी रखी।

___
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि भारत का शांति में दृढ़ विश्‍वास है और वह इसे बनाए रखने के लिए वचनबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि लेकिन भारत अपने आत्मसम्मान और सम्प्रभुता की कीमत पर कोई समझौता नहीं करेगा।

आकाशवाणी से प्रसारित मन की बात कार्यक्रम में श्री मोदी ने कहा कि भारत की नजर कभी भी किसी की धरती पर नहीं रही।

प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि भारत आज भी संयुक्‍तराष्‍ट्र के शांति अभियान में अपने सैनिक भेजने के मामले में अग्रणी देशों में से एक है।

हमारी नजर किसी और की धरती पर कभी भी नहीं थी। यह तो शांति के प्रति हमारी प्रतिबद्धता थी । कुछ दिन पहले ही हमने इजरायल में हाईफा की लड़ाई के 100 वर्ष पूरे होने पर मैसूर, हैदराबाद और जोधपुर लैंसर्स के हमारे वीर सैनिकों को याद किया जिन्‍होंने आक्रांताओं से हाईफा को मुक्‍ति दिलाई। यह भी शांति की दिशा में हमारे सैनिकों द्वारा किया गया एक पराक्रम था।

श्री मोदी ने कहा कि कल देशवासियों ने 2016 में किए गए सर्जिकल स्‍ट्राइक की याद में पराक्रम पर्व मनाया। उस दिन भारतीय सैनिकों ने आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब दिया था। श्री मोदी ने कहा कि स्‍वच्‍छ भारत मिशन न केवल भारत में बल्कि पूरे विश्‍व में सफलता की गाथा बन चुका है। उन्‍होंने कहा कि इस बार महात्‍मा गांधी अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍वच्‍छता सम्‍मेलन की मेजबानी भारत करेगा, यह विश्‍व का सबसे बड़ा स्‍वच्‍छता सम्‍मेलन है।

___

साठ देशों के एक सौ से ज्‍यादा प्रतिनिधियों ने आज गुजरात के साबरकांठा जिले के पुंसारी गांव का दौरा किया। ये प्रतिनिधि स्‍वच्‍छता की दिशा में गांव में हुए विकास को देखने पहुंचे थे।

गांधीनगर से 80 किलोमीटर की दूरी पर स्‍थिति पुंसारी गांव में अनेक विशिष्‍ट सुविधाएं मौजूद है जिसमें नि:शुल्‍क बस सेवा गांव की अपनी वेबसाइट स्‍वच्‍छ और मिनरलयुक्‍त आर प्‍लांट का पीने का पानी शून्‍य बकाया टैक्‍स सीसीटीवी नेटवर्क और डिजिटल पुस्‍तकालय शामिल है।

गांव की प्राथमिक शाला, आंगनवाड़ी केंद्र और पंचायत कचहरी विकास और स्‍वच्‍छता के लिए आकर्षण का मुख्‍य केंद्र है। सिंगापुर, जोर्डन और उजेबकिस्‍तान और अफगानिस्‍तान सहित कुल 60 देशों के प्रतिनिधियों ने इस गांव की मुलाकात ली। वे गांव में अपनाई जा रही श्रेष्‍ठ प्रथाओं से काफी प्रभावित हुए।

___
स्‍वच्‍छ भारत मिशन के चार साल पूरे होने पर 15 सितंबर से 2 अक्‍तूबर तक आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रम के सिलसिले में इस अभियान को जनांदोलन बनाने के प्रयास किये जा रहे हैं। कर्नाटक में बीदर जिले की हुमनाबाद नगर पालिका शहर को सुंदर बनाने के लिए स्‍वच्‍छता ही सेवा कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। प्रस्तुत है ग्राउंड रिपोर्ट-

हुमनाबाद नगर पालिका ने सभी समुदाय और सरकारी यंत्र का प्रयोग करते हुए स्‍वच्‍छता ही सेवा कार्यक्रम लागू किया है। हुमनाबाद उत्‍तर कर्नाटका में स्‍थित है। जहां स्‍वच्‍छता पर अभियान के द्वारा जोर दिया जा रहा है। सय्यद यासीन अली नगर-पालिका के सदस्‍य हैं जिन्‍होंने कार्यक्रम के बारे में अपना विचार रखा है।

हमारे देश के आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने नारा दिया है स्‍वच्‍छता ही सेवा है। उसको हम पूरे हुमनाबाद की जनता और जितने भी एनएसएस है जितने भी ऑग्रनाइजेशन्‍स हैं। आने वाले समय में हुमनाबाद को एक मॉडल सिटी के तौर पर बनाना है।

अशोक सी. चंदकोटे नगर पालिका के अध्‍यक्ष हैं जिन्‍होंने बताया है कि स्‍वच्‍छता ही सेवा द्वारा हुमनाबाद सुंदर शहर का रूप ले रहा है। हुमनाबाद के पूरे शहर में 23 वार्ड हैं। उसमें हम स्‍वच्‍छता ही सेवा कार्यक्रम में हम सिटी के सुंदर रखने के लिए बहुत कुछ कर रहे हैं।

स्‍कूल, कॉलेज, विद्यार्थियों, एनसीसी, एनएसएस, एनजीओस, एसएच ए मेम्‍बर हमारी म्‍यूनसिपालिटी के सदस्‍यों और हर डिपार्टमेंट के अफसरों को लेके हम स्‍वच्‍छता ही सेवा कार्यक्रम में हम स्‍वच्‍छता करने के लिए संकल्‍प करे हैं। स्‍वच्‍छता ही सेवा द्वारा समुदाय में जागृति हो रही है जिससे अपने परिसर को साफ रखने में मदद मिल रही है।

____

पाकिस्‍तान के एक हैलीकॉप्‍टर ने आज जम्‍मू-कश्‍मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास भारतीय हवाई क्षेत्र का अतिक्रमण किया। जम्‍मू में भारतीय सेना के सूत्रों ने बताया है कि सफेद रंग के इस हैलीकॉप्‍टर ने गुलपुर सेक्‍टर में दोपहरबाद 12 बजकर 10 मिनट पर भारतीय क्षेत्र में प्रवेश किया और करमाराह गांव के ऊपर कुछ देर तक चक्‍कर काटने के बाद वापस लौट गया।

——–
उजबेकिस्तान के राष्ट्रति शफकत मिर्जियोयेव दो दिन की भारत यात्रा के दूसरे चरण में आज शाम दिल्ली पहुंचे। हवाई अड्डे पर केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने उनका स्वागत किया। राष्ट्रपति मिर्जियोयेव की यह पहली भारत यात्रा। उनके साथ एक उच्चस्तरीय शिष्टमंडल भी भारत के दौरे पर आया हुआ है।

——-
मालदीव के हाईकोर्ट ने पूर्व राष्‍ट्रपति मौमून अब्‍दुल गयूम, उनके पुत्र फारिस मामून तथा विपक्षी जुम्हूरी पार्टी के नेता को जमानत पर रिहा करने के आदेश दिये हैं। पूर्व राष्‍ट्रपति को राष्‍ट्रपति अब्‍दुल्‍ला यामीन की सरकार का तख्‍ता पलटने का प्रयास करने के आरोप में फरवरी में गिरफ्तार किया गया था।

——–
भारत ने तुर्की के सैमसन में तीरंदाजी के विश्‍व कप फाइनल्स में एक रजत और दो कांस्‍य सहित कुल तीन पदक जीते। प्रतियोगिता के अंतिम दिन आज दीपिका कुमारी ने महिलाओं के रिकर्व वर्ग में कांस्य पदक जीता। इससे पहले भारतीय कंपाउंड तीरंदाज अभिषेक वर्मा ने दो पदक अपने नाम किये। उन्‍होंने मिक्‍स्‍ड टीम स्‍पर्धा में अपनी जोड़ीदार ज्‍योति सुरेखा वेन्‍नम के साथ, रजत पदक हासिल किया। व्‍यक्तिगत श्रेणी में अभिषेक ने कांस्य पदक जीता।

——–
भारत ने पेशावर स्‍कूल हमले के बारे में संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में पाकिस्‍तान की टिप्‍पणी की कड़ी निंदा की है। पाकिस्‍तान ने आरोप लगाया था कि 2014 का पेशावर स्‍कूल हमला भारत समर्थित था। संयुक्‍त राष्‍ट्र में भारत के स्‍थायी मिशन की राजनयिक ऐनम गंभीर ने संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के इस संबंध में लगाये गये आरोपों को निराधार बताया।

——–
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में कल विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज के भाषण की सराहना करते हुए कहा है कि उन्‍होंने दक्षिण एशिया में आतंकवाद की रोकथाम के बारे में पाकिस्तान के झूठे दावे की पोल खोल दी है। एक ट्वीट संदेश में श्री जेटली ने कहा है कि श्रीमती स्वराज ने आतंकवाद और बातचीत के मुद्दों पर पाकिस्तान की दोहरी नीति को उजागर कर भारत के दृष्टिकोण को विश्व के सामने रखा है।

——-
तीन दिवसीय पराक्रम पर्व का आज रात समापन हो रहा है। बड़ी संख्‍या में लोग समापन कार्यक्रम में हिस्‍सा लेने शाम को इंडिया गेट पर पहुंचे। पराक्रम पर्व का आयोजन देश की सशस्‍त्र सेनाओं के बलिदान, साहस और शौर्य को प्रदर्शित करने के लिए किया गया था। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारामन ने शुक्रवार को इस पर्व का उद्घाटन किया था। पर्व के दौरान कई तरह के सांस्‍कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए।

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY