दिनभर के प्रमुख समाचार एक साथ

मुख्य समाचार :

  • तीन दिवसीय पराक्रम पर्व समारोह देशभर में शुरू। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जोधपुर में सशस्‍त्र सेनाओं की क्षमताओं को दर्शाने वाली प्रदर्शनी का उदघाटन किया।
  • उच्‍चतम न्‍यायालय ने सबरीमला के अयप्‍पा मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति दी।
  • वित्‍तमंत्री अरूण जेटली ने कहा – प्राकृतिक आपदाओं का सामना कर रहे राज्‍यों की मदद के लिए उपाय सुझाने के वास्‍ते सात मंत्रियों का एक समूह गठि‍त किया जाएगा।
  • उच्‍चतम न्‍यायालय का भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में विशेष जांच दल गठित करने से इनकार। कहा – कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी दुर्भावनापूर्ण अभियोजन या सरकार से असहमत होने के कारण नहीं।
  • इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप में आये सात दशमलव पांच तीव्रता के भूकंप से बड़े नुकसान की आशंका।
  • एशिया कप क्रिकेट के फाइनल में बंगलादेश ने भारत के सामने जीत के लिए 223 रन का लक्ष्‍य रखा।

समाचार विस्तार से :

तीन दिवसीय पराक्रम पर्व समारोह आज से देशभर में शुरू हो गए। भारतीय सशस्त्र बलों, खासतौर पर विशेष बलों के साहस, शौर्य और बलिदान की झांकी प्रस्तुत करने के लिए आज शाम नई दिल्ली के इंडिया गेट लॉन में पराक्रम पर्व का आयोजन किया गया।

पराक्रम पर्व के उद्घाटन समारोह में रक्षामंत्री निर्मला सीतारामन ने भाग लिया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि 2016 में नियंत्रण रेखा के पार सर्जिकल स्ट्राइक करके भारतीय सशस्त्र बलों ने दुनिया को यह दिखा दिया कि भारत की असली ताकत क्या है।

आज हम पराक्रम पर्व मना रहे हैं। जिससे भारतीय सेना की शौर्यता की भारत के नागरिक हर एक नागरिक उनको याद करें और जिन शहीदों ने हमारे देश के लिए कुर्बानी दी है उन सबको भी मनन और इधर आकर के हम उनकी याद में कुछ क्षण उनके सम्‍मानजनक कार्यक्रम के द्वारा उनको समर्पित करें।

श्रीमती निर्मला सीता रमन ने कहा कि भारत ने यह भी बता दिया है कि वह किसी भी आतंकवादी को अपनी जमीन पर घुसने और गड़बड़ी फैलाने का दुस्साहस नहीं करने देगा। रक्षामंत्री ने कहा कि जो लोग आतंक फैलाना चाहते थे, उन्हें सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए मुंह तोड़ जवाब दे दिया गया है।

इस कार्यक्रम में सेना की वीरता को दर्शाता हुआ गीतकार प्रसून जोशी द्वारा लिखित और गायक कैलाश खेर द्वारा गाए गए एक गीत का लोकार्पण भी किया गया।

पराक्रम पर्व में स्कूल के बच्चों, एन सी सी कैडेटों और जवानों सहित बड़ी संख्या में आम लोगों ने हिस्सा लिया।

तीन दिनों तक चलने वाले इस पर्व में जानेमाने गायक और सेना के बैंड अपनी प्रस्‍तुति देंगे। इस कार्यक्रम में जवानों की वीरता और उनके साहस को दर्शाने वाली फिल्‍मों और फोटोग्राफी का भी प्रदर्शन किया जाएगा।

इस अवसर पर लोग जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकवादियों से बरामद किए गए हथियारों को भी देख पाएंगे। यह कार्यक्रम शनिवार और रविवार को सवेरे ग्‍यारह बजे से रात दस बजे तक लोगों के लिए खुला रहेगा।

——————————-

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज रात 9 बजकर 15 मिनट से दस बजे तक पराक्रम पर्व पर हिन्‍दी और अंग्रेजी में विशेष कार्यक्रम प्रसारित करेगा। यह कार्यक्रम आज रात 9 बजकर 15 मिनट से एफएम गोल्‍ड और राजधानी चैनल पर सुना जा सकता है।

——————————-

उच्‍चतम न्‍यायालय ने केरल में सबरीमाला के अयप्‍पा मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश की अनुमति दे दी है। प्रधान न्‍यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्‍यक्षता में पांच न्‍यायाधीशों की संविधान पीठ ने बहुमत से अपने फैसले में कहा कि सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर पाबंदी स्‍त्री-पुरूष के बीच भेदभाव है और इससे हिंदू महिलाओं के अधिकारों का उल्‍लंघन होता है।

महिलाओं के प्रवेश पर पाबंदी को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर यह फैसला सुनाने वाली पांच न्‍यायाधीशों की संविधान पीठ में फैसले से असहमत न्‍यायमूर्ति इंदु मल्‍होत्रा ने कहा कि गहरी धार्मिक आस्‍था वाले मुद्दों को समानता का माहौल बनाने के लिए इस्‍तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।

——————————-

महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने केरल के सबरीमला मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश की अनुमति दिये जाने संबंधी उच्‍चतम न्‍यायालय के फैसले का स्‍वागत किया है। उन्‍होंने कहा कि इससे धर्म और भी अधिक समावेशी बनेगा।

श्रीमती मेनका गांधी ने कहा कि यह एक शानदार फैसला है। ये बहुत ही अच्‍छा फैसला हुआ है और बहुत पहले होना चाहिए था, जो भगवान है वह एक या दूसरे के लिए तो है नहीं। और जो मंदिर अपने आप को कहता है कि वह भगवान की आवाज है तो वह कैसे हो सकता है फिर वह सबके लिए तो होना ही है।

——————————-

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि प्राकृतिक आपदाओं का सामना कर रहे राज्यों की मदद के उपायों पर विचार के लिए बहुत जल्द सात मंत्रियों का एक समूह गठित किया जाएगा। आज नई दिल्ली में जी एस टी परिषद की तीसवीं बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए श्री जेटली ने कहा कि इस समूह में पूर्वोत्तर, तटवर्ती और पर्वतीय राज्यों के प्रतिनिधियों को भी शामिल किया जाएगा।

——————————-

उच्‍चतम न्‍यायालय ने भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में महाराष्‍ट्र पुलिस द्वारा पांच कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी में हस्‍तक्षेप करने और विशेष जांच दल गठित करने से इंकार कर दिया है। प्रधान न्‍यायाधीश दीपक मिश्र की अध्‍यक्षता में तीन न्‍यायाधीशों की पीठ ने बहुमत से अपने फैसले में कार्यकर्ताओं को तुरंत रिहा करने की याचिका खारिज कर दी।

प्रधान न्‍यायाधीश ने कहा कि गिरफ्तारी कार्यकर्ताओं के विरोध के कारण नहीं हुई। आरंभिक तौर पर इस बात के सबूत थे कि उनका संबंध प्रतिबंधित माओवादी संगठन से था। न्‍यायमूर्ति ए एम खानविलकर ने कहा कि अभियुक्‍त ये फैसला नहीं कर सकता कि मामले की जांच किस एजेंसी से कराई जाए।

——————————-

भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने कहा है कि भीमा कोरेगांव हिंसा में पांच लोगों की गिरफ्तारी के मामले में उच्‍चतम न्‍यायालय के हस्‍तक्षेप से इन्‍कार करने पर कांग्रेस बेनकाब हो गई है। उन्‍होंने कहा कि शहरी माओवाद पर कांग्रेस को अपना रुख स्‍पष्‍ट करना चाहिए।

पार्टी प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने कहा है कि उच्‍चतम न्‍यायालय का निर्णय देश की जीत है, मैं कहूंगा यह भारतवर्ष के लिए बहुत बड़ी जीत है, राष्‍ट्रीय सुरक्षा और राष्‍ट्रहित की जीत है और मैं बहुत सख्‍त शब्‍दों का प्रयोग करते हुए बंधुओं और मित्रों यह भी कहूंगा कि यह कांग्रेस पार्टी की हार है। अपने आप को हिन्‍दुस्‍तान की राजनीति में प्रोपेल करने के लिए अपने आप को हिन्‍दुस्‍तान की राजनीति के मध्‍य में लाने के लिए राहुल गांधी विगत कुछ वर्षों से जिस प्रकार की राजनीति को हवा दे रहे हैं वह राष्‍ट्र की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रहा है।

——————————-

केंद्र ने राज्यों को एक परामर्श जारी कर कहा है कि वे आम लोगों को इस बात से अवगत कराएं कि किसी भी तरह की भीड़ की हिंसा के गंभीर कानूनी परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। उच्चतम न्यायालय के निर्देशों का हवाला देते हुए गृह मंत्रालय ने राज्यों से कहा है कि इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए वे कड़े कदम उठायें।

——————————-

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अंतर्गत दो लाख रुपये का बीमा किया जाता है जिसके लिए तीन सौ तीस रुपये की वार्षिक किस्त का भुगतान करना पड़ता है। इस योजना के तहत 18 वर्ष से 50 वर्ष आयु वर्ग के लोगों का बीमा किया जाता है। प्रस्तुत है ग्राउंड रिपोर्ट –

प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना से गोवा में बड़ी संख्‍या में लोगों विशेषकर आर्थिक दृष्‍टि से कमजोर वर्ग के लोगों को लाभ मिला है। योजना के एक लाभार्थी उत्‍तरी गोवा के तालेगाव के रहने वाले सैय्यद इरफान ने योजना के फायदों के बारे में बताया।

”मेरा नाम सैय्यद इरफान है, मार्केटिंग में मैं काम करता हूं। प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना इस स्‍कीम के बारे में मुझे बैंक मैनेजर ने बताया था और इसका लाभ मैंने उठाया है। साल में सिर्फ 330 रुपए अपने आप बैंक से डिडक्‍ट हो जाता है यह स्‍कीम का लाभ 18 साल से 50 साल की उम्र वाले उठा सकते हैं।”

लाभार्थी के खाते से प्रीमियत की राशि स्‍वत: प्रीमियम भुगतान होने और कम प्रीमियम की वजह से प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना विशेषकर गरीब और वंचित वर्ग के लोगों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने की दिशा में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा रही है।

——————————-

इन्डोनेशिया के द्वीप सुलावेसी में सात दशमलव पांच तीव्रता का भीषण भूकम्‍प आया है। इसका केन्‍द्र दोंगाला से 56 किलोमीटर पूर्वोत्‍तर में दस किलोमीटर की गहराई में था। इससे त्‍सुनामी की लहरें भी उठीं। आधिकारिक सूत्रों ने बताया है कि भूकम्‍प से बड़े जानमाल की आशंका है। दोंगाला में करीब तीन लाख लोगों पर भूकम्‍प का असर पड़ा है। बड़े भूकम्‍प के बाद लगातार उत्‍तरवर्ती झटके भी आ रहे हैं।

——————————-

सूचना और प्रसारण मंत्री राज्‍यवर्धन राठौड़ ने एलेक्‍सा स्‍मार्ट स्‍पीकर प्‍लेटफार्म पर आकाशवाणी के कार्यक्रमों के प्रसारण का आज शुभारम्‍भ किया। नई दिल्‍ली में आकाशवाणी भवन में आयोजित समारोह में श्री राठौड़ ने कहा

रेडियो पापुलर होता जा रहा है, प्रधानमंत्री जी ने जो मन की बात करनी शुरू करी उससे और पापुलर हो गया रेडियो, एक ऐसा माध्‍यम है जिसकी वजह से कोई डिस्‍ट्रैक्‍ट नहीं होता लेकिन उनकी काम करने की क्षमता है वह और बढ़ जाती है रेडियो की वजह से। बहुत से लोग होंगे जो देश-विदेश में अपने लोकल स्‍टेशन को सुनना चाहते होंगे और अब एलेक्‍सा के माध्‍यम से वो बिना उठे, बिना उंगली हिलाए अपने वॉयस के कमाण्‍ड से अपने लोकल स्‍टेशन सुन पाएंगे।

एलेक्‍सा उपकरण पर आकाशवाणी के 17 चैनलों के प्रसारण उपलब्‍ध रहेंगे।

——————————-

दुबई में एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में बंगलादेश ने भारत को जीत के लिए 223 रन का लक्ष्‍य दिया है। पहले बल्‍लेबाजी करते हुए बंगलादेश की पूरी टीम 48 ओवर और तीन गेंद में 222 रन बनाकर आउट हो गई।

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY