अनीता की रसोई से : फिश के स्वाद वाली कच्चे केले की सब्ज़ी

यदि आप फिश खाने की इच्छा रखते हैं लेकिन फिश उपलब्ध नहीं है तो इस केले की सब्जी को बना कर खाइयेगा. जब घर में नॉनवेज नहीं बनना होता, तब बच्चों को यही सब्ज़ी फिश कह कर खिला कर देखिये. इसका कुछ कुछ स्वाद वैसा ही रहता है.

सामग्री

कच्चे केले – 2 बड़े साइज के
प्याज़ – 3 मध्यम आकार के
लहसुन – 10-12 कली
अदरक – 1 टुकड़ा
पिसी लाल मिर्च – 1 टी स्पून
पिसा धनिया – 2 टी स्पून
हल्दी पिसी – चौथाई टी स्पून
गर्म मसाला – 1टीस्पून
नमक – स्वादानुसार
मेथीदाना – आधा टी स्पून
अजवाइन – चौथाई टी स्पून
हींग – चौथाई टी स्पून
बेसन – एक छोटी कटोरी
तेल – तीन बड़े चमचे

विधि

सर्वप्रथम एक साथ प्याज़, लहसुन व अदरक को पीस लें व कच्चे केलों को छीलकर लंबाई में टुकड़ों में काट लें और साफ पानी से धो लें।

फिर एक बाउल में सारे टुकड़ों को रख प्याज, लहसुन अदरक का एक चम्मच पेस्ट, बेसन, आधी मात्रा गर्म मसाला, आधी मात्रा हींग, अजवाइन व हल्का नमक डाल अच्छी तरह मिला दें।

यदि ड्राई लगे तो पानी का छींटा डाल मिलाएं। ध्यान रखें अच्छी तरह मसाला केलों पर चढ़ जाना चाहिए। इसे पांच मिनट तक ऐसा ही रखा रहने दें।

अब एक कढ़ाई में तेल गर्म करें और सारे टुकड़ों को तल कर निकाल लें। फिर तेल कम करके उसमें हींग व मेथीदाना डालें। चटकने पर प्याज लहसुन का पेस्ट मिला दें और सारे मसाले व नमक डालकर मसाला तेल छोड़ने तक भूनें।

मसाला अच्छी तरह भुन जाने पर उसमें केले के टुकड़ों को डालकर चौथाई छोटी कटोरी पानी डाल दें और ढ़क कर तीन चार मिनट तक धीमी आंच पर पकाएं। फिर खोल कर अच्छी तरह भून लें।

आपकी केले की स्वादिष्ट सब्जी तैयार है।

नोट

यदि केले पर चढ़ाने वाला मसाला बच जाए तो वह भी मसाले में डालकर भून लें।

माँ की रसोई में धींगा-मस्ती ही नहीं, होती है झींगा-मस्ती भी

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY