दिनभर के प्रमुख समाचार एक साथ

मुख्य समाचार :

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने वोट बैंक की राजनीति की निंदा की- कहा ऐसी राजनीति देश को दीमक की तरह खोखला कर रही है।
  • भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह रफाल सौदे को रद्द कराने की कोशिश कर रही है, क्‍योंकि अपने शासनकाल में उसे इस सौदे से रिश्‍वत नहीं मिल सकी।
  • वित्‍तमंत्री ने कहा-डूबे हुए कर्ज की वसूली में सुधार से सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंकों की स्थिति‍ सुधर रही है।
  • राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वर्ष 2018 के लिए राष्‍ट्रीय खेल पुरस्‍कार प्रदान किए। क्रिकेट खिलाड़ी विराट कोहली और भारोतोलक मीराबाई चानू, राजीव गांधी खेल रत्‍न पुरस्‍कार से सम्‍मानित।
  • एशिया कप क्रिकेट में अफगानिस्‍तान ने भारत को जीत के लिए 253 रन का लक्ष्‍य दिया।

समाचार विस्तार से :

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि वोट बैंक की राजनीति हमारे देश को दीमक की तरह चाट रही है और इससे होने वाले नुकसान से देश को बचाना भारतीय जनता पार्टी का उद्देश्‍य है।

पंडित दीन दयाल उपाध्‍याय की जयंती के अवसर पर मध्‍य प्रदेश में भोपाल के जम्‍बूरी मैदान में भाजपा कार्यकर्ताओं के महाकुंभ को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने यह बात कही।

हमारे देश में वोट बैंक की राजनीति ने समाज को दीमक की तरह तबाह कर दिया है और इसलिए आजादी के सत्तर साल में जो बर्बादी आई, उससे अगर देश को बचाना है तो हमारे सामने वोट बैंक की राजनीति की दीमक से देश को मुक्त कराना, ये भारतीय जनता पार्टी की विशेष जिम्मेवारी है।

श्री मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति को बढ़ावा देने वालों को देश के विकास की परवाह नहीं है और इसी कारण देश तेज गति से प्रगति नहीं कर पाया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सबका साथ सबका विकास सिर्फ एक चुनावी नारा नहीं है बल्कि यह हमारा पथ-प्रदर्शक सिद्धांत है।

हम वो लोग हैं जिन्हें गांधी भी मंजूर है, लोहिया भी मंजूर है और दीनदयाल भी मंजूर है। क्योंकि हम समन्वय में विश्वास करते हैं। हम सामाजिक न्याय में विश्वास करते हैं। सबका साथ सबका विकास ये सिर्फ चुनावी नारा नहीं है, उज्ज्वल भारत के भविष्य के लिए कोटि-कोटि भारतीयों की आशा, आकांक्षाओं की पूर्ति के लिए सोच समझ करके चुना हुआ, ये हमारा मार्ग है।

श्री मोदी ने स्‍पष्‍ट किया कि पार्टी की एकात्‍म मानववाद की सोच इसकी पहचान है और यही उसे दुनिया की अन्‍य पार्टियों से अलग करती है।

तीन तलाक के मुद्दे पर विपक्ष की आलोचना करते हुए श्री मोदी ने कहा कि प्रत्येक महिला को बराबरी का दर्जा मिलना चाहिए चाहे वह किसी भी धर्म की क्‍यों न हो।

इस अवसर पर भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने कहा कि भाजपा की प्राथमिकता देश की सुरक्षा है और यही वजह है कि असम में राष्‍ट्रीय नागरिकता रजिस्‍टर के जरिए 40 लाख घुसपैठियों की पहचान की गई है।

मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पार्टी के कई अन्‍य नेताओं ने भी सम्‍मेलन को संबोधित किया।

इससे पहले प्रधानमंत्री ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय को आज उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की है। दीनदयाल उपाध्याय का जन्म 1916 को मथुरा में हुआ था। एक उत्कृष्ट संगठनकर्ता और निष्ठावान नेता के रूप में वे भारतीय जनता पार्टी के मार्गदर्शक और प्रेरणास्रोत रहे।

——–

भारतीय जनता पार्टी ने आज फिर आरोप लगाया कि यूपीए अध्‍यक्ष के दामाद रॉबर्ट वाड्रा और विवादस्‍पद हथियार व्‍यापारी संजय भण्‍डारी के बीच सांठगाठ थी और उसकी कंपनी को एनडीए सरकार ने प्रतिबंधित किया है।

आज नई दिल्‍ली में पत्रकारों से बातचीत में पार्टी प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस रफाल विमान सौदे को रद्द कराने की कोशिश कर रही है क्‍योंकि यूपीए के शासनकाल में वह रिश्‍वत हासिल करने में असफल रही थी।

श्री संबित पात्रा ने दावा किया कि 2016 में भण्‍डारी के ठिकानों पर छापेमारी के दौरान राफाल सौदे से संबंधित दस्‍तावेजों समेत कई संवेदनशील कागजात बरामद हुए थे।

जो रेड पड़े थे उसमें कुछ आश्चर्यचकित करने वाले सामग्री हमारे सामने आये। पहला विषय जो सामने में आये कॉन्फिडेंसियल डॉक्यूमेंट जो केवल और केवल मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस के अंदर होना चाहिए और उस परिसर से बाहर नहीं निकलना चाहिए वो इसके घर से निकला था। और हमें तो यह भी सोर्सेस के माध्यम से मालूम पड़ रहा है कि रफाल के कागज़ भी उनके घर से निकला था।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की निष्‍ठा पर सवाल खड़े करने के लिए श्री पात्रा ने कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी की आलोचना की।

——–

दिल्‍ली की एक अदालत, प्रवर्तन निदेशालय की उस याचिका पर आठ अक्‍टूबर को सुनवाई करने को सहमत हो गयी जिसमें एयरसेल-मैक्सिस मामले में कार्ती चिदम्‍बरम से हिरासत में पूछताछ करने की मांग की गई थी।

कार्ति के वकीलों ने भी मामले की सुनवाई आठ अक्‍टूबर को करने का अनुरोध किया, उस दिन अदालत कार्ति की अग्रिम जमानत की याचिका की भी सुनवाई करेगी।

——–

वित्‍तमंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का डूबा हुआ कर्ज कम हो रहा है क्‍योंकि कर्जदार से कर्जों की वसूली में तेजी आई है। आज नई दिल्‍ली में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रमुखों की वार्षिक समीक्षा बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुए वित्‍तमंत्री ने कहा कि दीवाला और ऋण शोधन अक्षमता कानून लागू किए जाने की आशंका को देखते हुए कर्जदार खुद ही बैंकों की देनदारी का भुगतान कर रहे हैं।

उन्‍होंने कहा कि कई त्रैमासिक सत्रों के बाद पिछली तिमाही में बैंकों को शुद्ध मुनाफा हुआ।

“On basis of the last quarter and what they are projecting for the quarter to come, the good news for them is that the NPAs are on the decline because recoveries have picked up. Recoveries have picked up not only because of the resolution which have taken place in the NCLT but they have also picked up because those debtors who fear that they are likely to cross the red line, are paying up in anticipation of IBC process being compelled on them.”

विजया बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा और देना बैंक के विलय को लेकर बैंक-कर्मचारियों संघों की आशंकाओं के बारे में एक प्रश्‍न के उत्‍तर में वित्‍तमंत्री ने कहा कि यह विलय कर्मचारियों के हित में है।

——–

प्रधानमंत्री जन धन योजना एक राष्ट्रीय मिशन है जिसके तहत देशभर में प्रत्येक परिवार को व्यापक वित्तीय समावेशन के दायरे में लाने का समेकित प्रयास किया गया है। प्रधानमंत्री जन धन योजना गुजरात में भी सफल हो रही है। अहमदाबाद से ग्राऊंड रिपोर्ट :

गुजरात के वल्साड के रहने वाले अक्षय कदम का किसी भी बैंक में कोई खाता नहीं था। बाद में प्रधानमंत्री जन-धन योजना के अंतर्गत उन्होंने बैंक ऑफ बड़ौदा में अपना एक बचत खाता खुलवाया। अब वे आत्मविश्वास से अपनी वित्तीय जरूरतों की योजना बनाते हैं।

मेरा नाम अक्षय कदम है। प्रधानमंत्री की जन-धन योजना के तहत मैंने बैंक ऑफ बड़ौदा में जीरों बैलेंस से अकाउंट खुलवाया है। जिसमें मैं मेरे बचत का पैसा जमा करवाता हूं। जिससे मुझे बहुत फायदा होता है।

वल्साड के अक्षय कदम की तरह हजारों लोगों के जीवन में प्रधानमंत्री जन-धन योजना से परिवर्तन आया है। सही मायने में यह योजना उन हर एक गरीबों के सपनों को साकार करने जैसी है जिन्हें बैंकों की मुख्य धारा से जोड़ने की जरूरत है।

——–

निर्वाचन आयोग ने आम आदमी पार्टी विधायकों की वह याचिका रद्द कर दी जिसमें लाभ के पद से संबंधित मामले में गवाहों से जिरह करने की मांग की गई थी। अपने आदेश में आयोग ने कहा कि आवेदकों ने गवाहों से जिरह करने के बारे में याचिका में कोई ठोस कारण नहीं दिया है।

——–

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज राष्ट्रपति भवन में आयोजित राष्ट्रीय खेल पुरस्कार समारोह में देश का गौरव बढ़ाने वाले खिलाड़ियों को सम्मानित किया। भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली और विश्व चैंपियन महिला भारोत्तोलक मीराबाई चानू को देश के सर्वोच्च खेल सम्मान, राजीव गांधी खेल रत्न से पुरस्कृत किया गया। बीस खिलाड़ियों को अर्जुन पुरस्कार प्रदान किए गए।

राष्ट्रपति ने इनके अलावा द्रोणाचार्य तथा ध्यानचंद पुरस्कार, राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार, मौलाना अबुल कलाम आजाद ट्रॉफी और तेनजिंग नोर्गे राष्ट्रीय साहस पुरस्कार भी प्रदान किये।

एशियाई खेलों के चलते राष्ट्रीय खेल पुरस्कार समारोह को इस बार उसके नियमित दिन 29 अगस्त से आगे बढ़ाकर 25 सितम्बर को आयोजित किया गया। समारोह में केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ मौजूद थे।

——–

दुबई में एशिया कप एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट के सुपरफोर मैच में अफागनिस्तान ने भारत को जीत के लिए 253 रन का लक्ष्य दिया है। टॉस जीत कर बल्लेबाजी करते हुए अफगानिस्तान ने निर्धारित पचास ओवर में आठ विकेट पर 252 रन बनाए।

——–

जाने माने कमेंटेटर और रेडियो समाचार एंकर जसदेव सिंह का आज सुबह नई दिल्‍ली में निधन हो गया। वे 87 साल के थे और लम्‍बे समय से अल्‍ज़ाइमर्स बीमारी से पीडि़त थे।

उनका जन्‍म 18 मई 1931 को राजस्‍थान के सवाई माधोपुर जिले में बोनली गांव में हुआ था। उन्‍होंने 1955 में आकाशवाणी जयपुर में उद्घोषक के रूप में अपने व्‍यावसायिक जीवन की शुरूआत की। वे आकाशवाणी जयपुर के क्षेत्रीय समाचार एकांश के पहले समाचार वाचक थे।

श्री जसदेव सिंह ने आकर्षक आवाज और तेज रफ्तार हॉकी कमेंट्री के दम पर 1970, 80 और 90 के दशक में लोगों के दिलों पर राज किया। श्री जसदेव सिंह ने क्रिकेट सहित कई खेलों में कमेन्ट्री की थी। हॉकी पर उनकी जबरदस्त पकड़ थी। उन्हें पद्मश्री और पद्म भूषण से अलंकृत किया गया।

श्री जसदेव सिंह ने “ओलम्पिक की यात्राए”, “खिलाडियों का बचपन”, “हॉकी”, “बैडमिन्टन” और “बास्केटबॉल” नामक पांच पुस्तकें भी लिखी। कुछ साल पहले उन्होंने अपने जीवन की कहानी को “मैं जसदेव सिंह बोल रहा हूं” के रूप में एक किताब की शक्ल दी। बेशक आज यह आवाज थम गई है लेकिन उनके प्रसंशकों के दिलो-दिमाग पर आवाज हमेशा जिंदा रहेगी…।

सूचना और प्रसारण मंत्री राज्‍यवर्धन राठौर ने उनके निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है।

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY