हां, मैं भक्त हूं!

विनम्रता और ज्ञान कितने सुंदर आभूषण हैं। मुझमें ये दोनों ही नहीं हैं। विनम्रता यूं नहीं कि मोदी विरोध में खड़े लोगों, खासकर विपक्ष के नेताओं को तुच्छ मानता हूँ। ज्ञान मुझमें है नहीं। हो भी नहीं सकता। ज्ञान तो मोदीविरोध का प्रथम पर्व है। जो मोदी समर्थक हैं वे संघी, मूर्ख, भक्त और बौद्धिक … Continue reading हां, मैं भक्त हूं!