प्रधानमंत्री ने किया ‘स्‍वच्‍छता ही सेवा’ आंदोलन का शुभारंभ

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज नई दिल्‍ली में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पखवाड़े भर के स्‍वच्‍छता ही सेवा आंदोलन का शुभारंभ किया। दो अक्‍टूबर गांधी जयंती तक चलने वाले इस अभियान का उद्देश्‍य साफ-सफाई के काम में लोगों का सहयोग जुटाना और स्‍वच्‍छता अभियान को और सशक्‍त बनाना है ताकि राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी के स्‍वच्‍छ भारत का स्‍वप्‍न पूरा किया जा सके।

मोदी ने इस अवसर पर भारत-तिब्‍बत सीमा पुलिस के जवानों, स्‍कूली बच्‍चों, दूध और कृषि सहकारी समितियों, सद्गुरू जग्‍गी वासुदेव, श्री श्री रविशंकर, माता अमृतानंदमयी, पटनासाहेब के जत्‍थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह, अजमेर दरगाह के ज़रार चिश्‍ती, अभिनेता अमिताभ बच्‍चन, उद्योगपति रतन टाटा, उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और स्‍वच्‍छाग्रहियों तथा लोगों से बातचीत की।

मोदी ने कहा कि स्‍वच्‍छता को आदत बनाने की जरूरत है। प्रधानमंत्री ने कहा कि चार साल पहले शुरू किया गया स्‍वच्‍छता आंदोलन अब चरम पर है। उन्‍होंने कहा कि किसी ने नहीं सोचा था कि चार साल के भीतर करीब नौ करोड़ शौचालय बन जाएंगे और साढ़े चार लाख गांवों, साढ़े चार सौ जिलों और बीस राज्‍यों तथा केन्‍द्रशासित प्रदेशों के लोग खुले में शौच की आदत छोड़ देंगे।

उन्‍होंने कहा कि यही भारत और भारतीय लोगों की शक्ति का परिचायक है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के हर वर्ग और हर आयु के लोग इस अभियान से जुड़े हुए हैं। मोदी ने कहा कि स्‍वच्‍छ भारत अभियान से देश में पेचिश के रोगियों की संख्‍या काफी कम हो गयी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कचरे का निपटान जरूरी है और इसके लिए कचरे के प्रबंधन को अधिक प्रभावी बनाना होगा। मोदी ने कहा कि सरकार कचरे से आमदनी के प्रयासों को सफल बनाने के लिए गंभीरता से उपाय कर रही है।

मोदी ने कहा कि जब भी इस जन आंदोलन का उल्‍लेख होगा तो स्‍वच्‍छाग्रहियों के नाम स्‍वर्णाक्षरों में लिखा जाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि सवा सौ करोड़ भारतीयों के इस स्‍वच्‍छता अभियान को पूरा विश्‍व उत्‍सुकता से देश रहा है। उन्‍होंने कहा कि जनसहयोग से ही यह आंदोलन सफल हो सका है।

असम के युवाओं की चर्चा करते हुए मोदी ने कहा कि वे सामाजिक बदलाव के सेनानी हैं और जिस प्रकार उन्‍होंने स्‍वच्‍छता के संदेश का प्रचार किया वह सराहनीय है। उन्‍होंने कहा कि भारत में किसी भी सार्थक परिवर्तन में युवाओं की सदैव अग्रणी भूमिका रही है।

जम्‍मू कश्‍मीर में लेह के पैंगोंग त्‍सो में तैनात भारत तिब्‍बत सीमा पुलिस के जवानों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि सीमा पर या किसी आपदा की घड़ी में जवान ही हमेशा आगे रहते हैं। मोदी ने कहा कि जवानों ने देश का गौरव बढ़ाया है।

गुजरात की सहकारी समितियों की महिला सदस्‍यों से चर्चा करते हुए मोदी ने कहा कि स्‍वच्‍छ भारत मिशन में देश की नारी शक्ति का जबरदस्‍त योगदान है। उन्‍होंने सहकारी क्षेत्र से आग्रह किया कि वे स्‍वच्‍छता मिशन को आगे बढ़ाने में अपने प्रयास जारी रखें।

हरियाणा में रेवाड़ी रेलवे स्‍टेशन पर एक जनसमूह से बातचीत में मोदी ने कहा कि भारतीय रेलवे ने स्‍वच्‍छता अभियान को बढ़ाने में उल्‍लेखनीय योगदान किया है।

स्‍वच्‍छता ही सेवा आंदोलन के तहत श्रमदान करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने नई दिल्‍ली के पहाड़गंज में बाबा साहेब अम्‍बेडकर उच्‍चतर माध्‍यमिक विद्यालय के परिसर में झाड़ू लगाई और वहां विद्यार्थियों से बातचीत भी की।

रावण के दस सिर पर तीर चलाने से कुछ नहीं होगा, नाभि में तीर लगने की प्रतीक्षा करो

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY