वीडियो : ‘हम कोई तोड़फोड़ नहीं करेंगे, ये सम्पत्ति हमारी है क्योंकि हम ही सरकार हैं’

कल हमारे शहर में सवर्ण समाज का एक बड़ा प्रोग्राम था, आरक्षण SC ST Act और Nota को ले कर।

इस कार्यक्रम में सवर्ण समाज की निर्णायक भूमिका तय होनी थी। करणी सेना ने इसका आयोजन किया था।

अब जब आयोजनकर्ता करणी सेना हो और मामला SC ST का हो तो भला कांग्रेस कैसे पीछे रह सकती है? सो कांग्रेस के कई पदाधिकारी भी पहुँचे।

अरे भैया सरकार विरोधी मुहिम चली है तो उसमें भीड़ भी दिखनी चाहिये कि नहीं? कार्यक्रम की सफलता भीड़ पर ही डिपेंड करती है, सो कांग्रेसियों ने पूरी ताकत झोंक दी, सामान्य लोग भी गए। हुआ ये कि अच्छी खासी भीड़ जमा हो गयी।

कार्यक्रम गैर राजनीतिक था, सो प्रसिद्ध कथा वाचक आचार्य देवकीनंदन ठाकुर जी महाराज को इसकी कमान सौंपी गई। उन्होंने माइक संभाला और जो बोला वो इस प्रकार है :

“सरकार के लिए सभी नागरिक समान होने चाहिए भेदभाव नहीं होना चाहिए।

जो गलत करे उसे सज़ा मिले, पर जो निर्दोष हों उन्हें परेशानी नहीं होनी चाहिए।

हम सरकार के खिलाफ नही हैं। सरकार कौन है? सरकार हम और आप हैं। ये तो हमने चौकीदार बैठा रखे हैं ये जनता के सेवक हैं। सरकार आप हैं, मैं हूँ।

सिंधिया जी ने SC ST एक्ट का समर्थन किया था दिल्ली में। अब यहां हूँ इसलिए सिंधिया जी की बात कर रहा हूँ, कहीं और होता तो किसी और की बात होती।

सभी पार्टियां बराबर दोषी हैं, सबने अंगूठा दबाया था संसद में।

हम कोई तोड़फोड़ नही करेंगे, ये सम्पत्ति हमारी है क्योंकि हम ही सरकार हैं। ये हमारे पैसे से बनी संपत्ति है, हम अपनी संपत्ति का नुकसान किसी भी हाल में नही करेंगे।

कुछ लोग nota की बात कर रहे हैं। जो nota दबाएगा वो लोटे की तरह बह जाएगा, nota नही दबाना है, अपने मताधिकार को बर्बाद नही करना है।

हम 2-3 महीने इंतज़ार करेंगे, और अगर कोई रास्ता नहीं निकला तो कोई मज़बूत और स्थायी समाधान ढूंढा जाएगा, पर nota तो कतई नहीं, इसमें हमारी हार है।

भारत माता की जय, वन्देमातरम।”

जनता ने भी महाराज जी का खूब साथ दिया, उधर कांग्रेसियों के होश उड़ गए कि जनता ने उनका साथ छोड़ दिया।

जनता ने हाथ उठा उठा कर समर्थन किया, और इधर कांग्रेस का घाघरा उठ उठ जाए। हैरान परेशान हताश कांग्रेसी गए तो थे लाल सलाम करने, पर लौट कर आये लाल दुकान ले कर।

सवर्ण समाज की सूझबूझ की जितनी तारीफ की जाए कम है, और इसका पूरा श्रेय जाता है आचार्य श्री देवकीनंदन जी महाराज को, बहुत सुलझे और कम शब्दों में जनता को सबकुछ समझा दिया।

SC-ST एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट से लेकर संसद तक की राजनीति, और हिंदुत्व का समुद्र मंथन

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY