घर आया मेरा परदेशी : कांग्रेस को धन्यवाद और बीजेपी को महज़ साधुवाद

किसी के घर आने की इच्छा है? आपका स्वागत है। लेकिन दरवाजा खटखटा कर उसकी अनुमति लें, फिर आएं। अगर आप पिछले दरवाजे या टूटी खिड़की, नाली-नाबदान से उसकी जानकारी के बिना घुसेंगे तो आपको संवैधानिक और कानूनी रवायत से लतिया के निकालने का हक उसे है। देश को उसका यह हक़ दिलाने के लिए … Continue reading घर आया मेरा परदेशी : कांग्रेस को धन्यवाद और बीजेपी को महज़ साधुवाद