Warm Water Therapy : 100 प्रतिशत प्रभावी है स्वास्थ्य समस्याओं को हल करने में गर्म पानी

परिवार और दोस्तों के साथ कृपया साझा करें, यह बहुत महत्वपूर्ण है और किसी के जीवन को बचा सकता है।

Doctors के एक समूह ने पुष्टि की है कि कुछ स्वास्थ्य समस्याओं को हल करने में गर्म पानी 100% प्रभावी है।
जैसे कि :-
1 माइग्रेन
2 High BP
3 Low BP
4 जोड़ों के दर्द
5 दिल की धड़कन की अचानक तेज़ी और कमी
6 मिर्गी
7 Cholesterol का बढ़ता Level
8 खांसी
9 शारीरिक असुविधा
10 गोलु दर्द
11 अस्थमा
12 पुरानी खांसी
13 नसों के रुकावट
14 Uterus और Urine से संबंधित रोग
15 पेट समस्याओं
16 भूख की कमी
17 आँखें, कान और गले से संबंधित सभी बीमारियां भी
18 सिरदर्द

Warm water का उपयोग कैसे करें ??

सुबह जल्दी उठें और Toilet से फारिग होने के बाद लगभग 4 गिलास गर्म पानी (लगभग 1 से सवा लीटर) पीयें। शुरू में 4 गिलास पीने में असुविधा हो सकती है लेकिन धीरे धीरे आप आदत बना लेंगे।

नोट: गर्म पानी (बिल्कुल चाय की तरह से गर्म नहीं) लेने के बाद 45 मिनट के अंदर कुछ भी नहीं खाएं।

गर्म जल उपचार उचित अवधि के भीतर स्वास्थ्य समस्याओं को हल करेगा जैसे :

30 दिनों में diabetese पर प्रभाव
30 दिनों में BP पर प्रभाव
10 दिनों में पेट की समस्याएं
9 महीनों में सभी प्रकार के कैंसर पर प्रभाव
6 महीनों में नसों की रुकावट में काफी कमी
10 दिनों में भूख की कमी दूर
10 दिनों में UTERUS और संबंधित रोग
10 दिनों में नाक, कान और गले की समस्याएं
15 दिनों में महिला समस्याएं
30 दिनों में हृदय रोग
3 दिनों में सिरदर्द / माइग्रेन
4 महीने में CHOLESTROL
9 महीनों में लगातार मिर्गी और पक्षाघात
4 महीने में अस्थमा

ठंडा पानी आपके लिए खराब है।

अगर ठंडा पानी आपको कम उम्र में प्रभावित नहीं करता है, तो यह आपको बुढ़ापे में नुकसान पहुंचाएगा।
ठंडा पानी दिल के 4 नसों को बंद कर देता है, और दिल का दौरा पड़ सकता है।
COLD DRINK हार्ट अटैक का मुख्य कारण है

यह LEVER में भी समस्याएं पैदा करता है।
यह FAT को जिगर के साथ चिपका देता है। जिगर प्रत्यारोपण के लिए इंतजार कर रहे अधिकांश लोग ठंडे पानी पीने के शिकार हैं।

ठंडा पानी पेट की आंतरिक दीवारों को और कैंसर में बड़ी आंत को प्रभावित करता है।

– Whatsapp से प्राप्त ज्ञान

जल-उपवास : शरीर की गुलामी और रोगों से मुक्ति का अद्भुत तरीका

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY