महज़ आम चुनाव नहीं, अस्तित्व का महासंग्राम है 2019

सेना में ऐसे लोग कदापि न होने चाहिए जो माने कि गुलामी ही सही, ज़िंदा तो बचेंगे। वे योद्धा कहलाने के लायक ही नहीं जो अपनी क्षमता तथा अपने नेता की क्षमता में विश्वास नहीं रखते और न अंत तक लड़ते रहने की हिम्मत रखते हैं। यही लोग युद्ध के पहले ही हार की संभावनाएं … Continue reading महज़ आम चुनाव नहीं, अस्तित्व का महासंग्राम है 2019