हम सदमे में हैं, और रोहिंग्या जश्न में

शिमला में रोहिंग्या अवैध घुसपैठिए बाकायदा एक जम्मू की कम्पनी द्वारा लाए गए हैं…

नगर निगम, शिमला ने साफ-सफाई और घर-घर जाकर कूड़ा इकट्ठा कर डिस्पोजल करने के लिए इस कम्पनी को ठेका दिया है…

यह जानते हुए भी रोहिंग्या घुसपैठियों को शिमला तो छोड़िए, जम्मू के विभिन्न क्षेत्रों में ही कार्य करने की कानूनी अनुमति नहीं है… परंतु हिमाचल सरकार ने उन्हें हिमाचल में प्रवेश की अनुमति दी है.

जो लोग शिमला में रहते हैं… वह जानते हैं कि शिमला, मंडी, कांगड़ा, कुल्लू और मनाली में श्रम संबंधी कार्यों के साथ-साथ व्यापारिक क्षेत्रों पर अलगाव समर्थक कश्मीरी लोगों का कब्ज़ा हो चुका है.

ऐसे में रोहिंग्या मुस्लिमों की भी हिमाचल में घुसपैठ एक खतरनाक समीकरण की ओर खुला इशारा है…

रोहिंग्या घुसपैठियों को शिमला लाने वाले कम्पनी के मालिक का कहना है कि रोहिंग्या मुस्लिमों के पास UNHRC का परिचय पत्र है…

अधिकांश लोग संयुक्त राष्ट्र की इस संस्था के बारे में नहीं जानते… यह एक कंडम संस्था है जिसकी पूरे विश्व मे कोई मान्यता नहीं है… न इज़्ज़त…

पश्चिमी देशों ने सीरिया और इराक के मुस्लिम शरणार्थियों को अपने यहां शरण अवश्य दी है… परंतु इन देशों ने UNHRC के कार्डों को रद्दी की टोकरी में फेंक दिया क्योंकि वह जानते हैं कि इन घुसपैठियों को यह कार्ड मुस्लिम उम्माह की मिली-भगत से कूड़े के भाव मिल जाते हैं.

UNHRC के अधिकांश कर्ता-धर्ता देश तोड़ने वाली तहरीरों से जुड़े हुए हैं… मग़र भारत में UNHRC को संयुक्त राष्ट्र की बड़ी तोप माना जाता है… बगैर किसी डाक्यूमेंट्स के रोहिंज्ञाओं को UNHCR कार्ड ऐसे बांट दिए गए… जैसे भंडारे में खाना बंटता है…

भारतीयों ने इन कार्डों को अल्लाह के आदेश की तरह स्वीकार कर लिया है… पूरे देश में रोहिंग्या इन कार्डों को लिए टहल रहे हैं… सुविधायें लूट रहे हैं… रोज़गार पर डकैती डाल रहे हैं…

सरकारें जानबूझकर अंधी, गूंगी-बहरी बनी हुई हैं… इधर रोहिंग्या जम्मू के सेना के कैम्प पर हमले में लिप्त पाए गए हैं, जम्मू में कैमरे के सामने पत्रकारों की पिटाई करते हैं… ज़मीन पर कब्ज़े कर रहे हैं… व्यापार पर कब्ज़े ठोक रहे हैं… हम सदमे में हैं… रोहिंग्या जश्न में…

3 साल हो गए… हमे रोते कराहते… इस बीच रोहिंग्या… बंगाल, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कश्मीर, हरियाणा, पंजाब तक फैल गए…

अब तो जम्मू-कश्मीर में भी आपकी सरकार है और देश के 19 राज्यों में भगवा फहरा रहा है!… रोहिंग्या, बांग्लादेशी और देशविरोधी तत्वों को कौन रोकेगा?

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY