बचा भोजन करें दान, ताकि भूखा दें आपको वरदान

बिलासपुर के सदर बाज़ार में ‘अन्न केंद्र’ इस भावना से शुरू किया था कि बचे हुए अन्न का सदुपयोग हो.

कल रात कोई परिवार कार से उतरा और दो व्यक्तियों का भोजन फ्रिज में रखकर चुपचाप चले गए. यह किसी होटल से पैक करवाया हुआ ताजा भोजन था.

आज ये दोनों आयीं, अपने साथ आम लेकर आयीं और बताकर गयीं, ‘कल से हम रोज़ ताज़ा खाना बनाकर लाएंगी, बचा हुआ नहीं.’

जब उनका फोटो लेने लगे तो मना किया उन्होंने, फिर समझाने पर मान गयीं, नाम हैं, सुश्री प्रिंसी गंभीर और सुश्री तरण सलूजा.

इसीलिए कहा जाता है, ‘मीलों दूर जाने के लिए एक कदम उठाना ज़रूरी है।’

इसे ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करें ताकि अधिक से अधिक लोग इस मुहिम में शामिल हो सके!!

– विकास कौशिक के फेसबुक पेज से आभार

इसे भी पढ़ें

जनहित में जारी : Snake Rescue helpline Numbers

जनहित में जारी : अब गाय के पेट में से Plastic, Polythene निकालने के लिए पेट फाड़ने की जरूरत नहीं

 

 

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY