आयुर्वेद आशीर्वाद : नशे की लत से छुटकारा पाने का नुस्खा

आज आप सबके समक्ष एक गम्भीर समस्या से निजात पाने के लिए एक जबरदस्त नुस्खा लेकर आया हूँ. और ये नुस्खा बना खासतौर पर उन युवाओं, वयस्कों, ओर उम्र दराज़ पुरुषों के लिए जो नशे की गिरफ्त में आकर अपना शरीर की शारीरिक, मानसिक, और सेक्शुअल पावर खो चुके हैं.

तो दोस्तो मेरे पास बहुत से युवाओं और पुरुषों के मैसेज और फ़ोन आते थे और आज भी आते हैं कि श्रीमान हमारी शारीरिक, मानसिक और सेक्शुअल पावर नशा करने की वजह से धीरे-धीरे खोती जा रही है या बिल्कुल समाप्त हो चुकी है. कृपया कुछ समाधान बताएं.

तो दोस्तो लम्बी खोज के बाद ये नुस्खा मैंने खुद से तैयार किया है और बीमार पर आजमाया भी है जो इस समस्या से ग्रसित था, इसके परिणाम आश्चर्य जनक निकले हैं.

आज वो नुस्खा मैं आप सबके सामने बताने जा रहा हूँ, कृपया इसे बड़े ही ध्यान से पढ़ें. और अगर आप भी इस नशे की वजह से इन तीनों परेशानियों से घिरे हैं या इनमें से किसी भी समस्या से परेशान हैं, तो आप ये नुस्खा ध्यान से पढ़ें और अपने दोस्तों को भी शेयर करें ताकि कोई भी युवक, पुरुष श्रेणी इस नशे की वजह से अपना शरीर खराब कर चुका है तो वो इसे इस्तेमाल करके दोबारा पहले जैसा हो सके.

सबसे पहले मैं बता दूं कि ये नुस्खा किस किस नशे की वजह से आई कमज़ोरी को ठीक कर सकता है.
1- शराब
2- गुटखा
3- पान बीड़ी सिगरेट
4- अफीम
5- भांग
6- भुकी
7-अमल
तो दोस्तो ये 7 प्रकार के नशे से खत्म हुई शारीरिक मानसिक और यौन शक्ति को ये नुस्खा दोबारा पहले जैसा बना देगा.

अब जानते हैं नुस्खा बनाने की सामग्री

1- अकरकरा 50ग्राम
2- लौंग 5 ग्राम
3- सौंफ़ 50ग्राम
4- सालम पंजा 100 ग्राम
5-सफेद मूसली 100 ग्राम
6- छोटी इलायची 10 ग्राम
7- रेगेमाहि 30 ग्राम
8- रुमी मस्तगी 40ग्राम
9- काले कौंच 50 ग्राम
10- ईरानी केसर 2 ग्राम
11- लाल बहमन 35 ग्राम
12- जायफल 20 ग्राम
13- जावित्री 10 ग्राम
14- गोंद देसी घी में भुना हुआ 35 ग्राम
15- वंशलोचन 20 ग्राम

इन सबको आपस में मिलाकर बहुत ही बारीक पीस लें. उसके बाद एक डिब्बे में टाइट बंद करके रख लें.

अभी दवाई नुस्खा पूरा नहीं हुआ है. यह नुस्खा अपने आप बनाने की कोशिश न करें, ये सिर्फ आपकी जानकारी के लिए बताया गया है. किसी परिक्षित वैद्य से बनवाएं या हमसे भी ऑनलाइन आप कॉरियर के माध्यम से मंगवा सकते हैं.

दूसरी सामग्री बनाने के लिए नुस्खा-

1- रस सिंदूर
2-नाग भस्म
3-लोह भस्म
4- अभ्रक भस्म
5- सुद्ध धतूरा बीज
6- सूखी भांग मात्र 8 ग्राम
7-स्वर्ण भस्म
8-वंग भस्म
9- मकरध्वज

इन सबको आपस में मिलाकर किसी एक खरल में डालकर रोजाना आधे आधे घंटे तक पान का रस की भावना देकर और 5 से 6 बूँद शुद्ध शहद की भावना देकर खरल करे. और रोजाना आधे घंटे और ऐसा 4 से 5 दिन तक रोजाना घोटना है. और आखरी दिन इसकी महीन महीन गोलियां बना लें.

तो लीजिये आपका जबरदस्त नुस्खा तैयार है. जो गोलियां अभी हमने बनाई है वो रोजाना सुबह एक या दो गोली गुनगुने मीठे दूध से खानी है और जो पाउडर हमने पहले बनाया था वो चूर्ण रात को सोते वक्त एक चमच्च माखन और दूध के साथ लें.

ये नुस्खा आप हमसे भी मंगवा सकते है कॉरियर से पूरे भारत में कहीं भी.

– आयुर्वेद डॉ अमर वर्मा

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY