देश को आज ज़रूरत है ऐसे ही विश्वासघाती प्रधानमंत्री और विश्वासघाती सरकार की

21 जुलाई 2013 को सुप्रीम कोर्ट में केंद्र की तत्कालीन यूपीए सरकार ने बाकायदा एक हलफनामा देकर देश में बने नेशनल हाईवे से सम्बंधित आंकड़े प्रस्तुत किये थे.

अपने हलफनामे में कांग्रेसी यूपीए की सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को यह बताया था कि देश में 1980 तक कुल 29023 किमी लम्बाई के नेशनल हाइवे बन चुके थे. उसके बाद के 32 वर्षों में, 2012 तक देश में 47,795 किमी हाइवे बने थे.

अपने इस हलफनामे में तत्कालीन यूपीए की कांग्रेसी सरकार ने यह सच भी स्वीकार किया था कि 32 वर्षों बने इस 47,795 किमी लम्बे हाइवे में से 23815 किमी लम्बे हाइवे का निर्माण अटल जी के नेतृत्व वाली NDA सरकार के 5 वर्ष के कार्यकाल में हुआ था.

[सुप्रीम कोर्ट में यूपीए सरकार द्वारा दिये गए नेशनल हाइवे निर्माण से सम्बंधित हलफनामे की खबर का लिंक : NDA regime constructed 50% of national highways laid in last 30 years: Centre]

इस हलफनामे में 2004 से 2014 तक के कांग्रेसी यूपीए शासनकाल के सम्बन्ध में भी यह कहा गया था कि इस दौरान लगभग 16000 किमी लम्बे हाइवे के निर्माण हुआ. (वर्ष 2013-14 का अनुमान लगाकर आंकड़ा बताया था)

अब जरा इस आंकड़े पर ध्यान दीजिए कि 1980 से 2012 तक के 32 वर्ष की समयावधि में से 27 वर्षीय गैर भाजपाई शासनकाल में से 25 वर्ष तक कांग्रेस का शासनकाल रहा. इसमें 1980 से 1996 के बीच के 15 वर्ष में कांग्रेस का शासन था.

इसमें से 10 वर्ष तक देश के प्रधानमंत्री की कुर्सी पर राहुल गांधी की दादी इंदिरा गांधी और पिताश्री राजीव गांधी ही बैठे थे.

यदि यह मान लिया जाए कि वीपी सिंह, चन्द्रशेखर, देवेगौड़ा और इंद्रकुमार गुजराल के नेतृत्व वाली सरकारों के 2 सालों के कार्यकाल में एक इंच भी नेशनल हाइवे नहीं बनाया गया तो भी उन 15 वर्षों के कांग्रेसी सरकार के कार्यकाल में देश में मात्र 8 हज़ार किलोमीटर लम्बे हाइवे बने थे.

अर्थात 1980 से 2014 के दौरान 25 वर्षों के कांग्रेसी शासन में कुल 24 हज़ार किलोमीटर लम्बे नेशनल हाइवे बने थे जबकि अटल जी की सरकार के केवल 5 वर्ष के कार्यकाल में 23815 किमी लम्बे हाइवे बने थे.

और आज ही प्रकाशित एक खबर के अनुसार मई 2014 से मार्च 2018 तक के अपने केवल 4 वर्षीय कार्यकाल में मोदी सरकार ने देश में 28702 किमी लम्बे नेशनल हाइवे बनाए हैं.

अतः आज देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार को विश्वासघाती बताकर देश में विश्वासघात दिवस मना रही कांग्रेसी नेताओं की फौज यह समझ ले कि देश को आज 25 वर्षों में 24 हज़ार किमी नेशनल हाईवे बनाने वाली कांग्रेसी सरकारों की ज़रूरत नहीं है. इसके बजाय देश को केवल 4 वर्षों में 28 हज़ार 702 किमी लम्बे नेशनल हाइवे बनाने वाली मोदी सरकार की ज़रूरत है.

कांग्रेस फौज अगर फिर भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार को विश्वासघाती कहती है तो वह भलीभांति यह समझ ले कि देश को आज ऐसे विश्वासघाती प्रधानमंत्री और सरकार की ही ज़रूरत है.

नेशनल हाइवे के निर्माण की कसौटी इसका पहला या अकेला कारण नहीं है. अगले लेखों में ऐसे 10 और कारण लिखने वाला हूं. कांग्रेसी फौज प्रतीक्षा करे…

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY