पूँजीवाद और समाजवाद का मिक्स नॉनवेज पुलाव : वामपंथ

मार्क्सवाद दरअसल जर्मन दार्शनिक हीगल के द्वंद्ववाद, इंग्लैंड के पूंजीवाद और फ्रांसीसी समाजवाद का “मिला-जुला नॉनवेज पुलाव” है. इसमें यूरोपीय सामंती भावना, सबसे उच्च होने का दंभ भी रहा है और भारत, भारतीयों के प्रति हीनभाव भी. यही वजह है कि वामपंथ भारत के स्वाभाविक सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का विरोधी है. ऐसा उसके मूल आयातित चरित्र … Continue reading पूँजीवाद और समाजवाद का मिक्स नॉनवेज पुलाव : वामपंथ