आयुर्वेद आशीर्वाद : प्रदर रोग का रामबाण इलाज

आज मैं आपको आयुर्वेद में एक गंभीर बीमारी की दवाई बताने जा रहा हूं जोकि प्रदर रोग (leukorrhea disease) की है जिसे सफ़ेद पानी की समस्या भी कहते है. दवाई का नाम मैं नीचे श्रेणी में लिख रहा हूँ.

छोटी इलायची के बीज – 30 ग्राम
मुलहटी – 60 ग्राम
काले कौंच बीज – 120 ग्राम
तुलसी बीज – 110 ग्राम
आँवला – 130 ग्राम
कीकर की फली – 150 ग्राम
धागा मिश्री – 130 ग्राम
गिलोय सत्व – 20 ग्राम
सफ़ेद मुसली – 150 ग्राम
शतावरी – 80 ग्राम
सालम पंजा – 60 ग्राम

इन सबको आपस में बारीक पीस कर किसी हवा रहित जार में रख लें. दवा तयार है.

सेवन विधि – एक एक चमच्च दिन में 3 बार सादे पानी से लें.

सेवन समय – अगर बीमारी कुछ ही समय से शुरू हुई है तो एक महीना इसका सेवन करें और आगे समस्या बहुत पुरानी और जटिल है तो इसका सेवन 3 महीने तक करे. समस्या जड़ से खत्म हो जायेगी.

– आयुर्वेद डॉ अमर वर्मा

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY