कबूल नहीं ‘आप’की माफ़ी, केजरीवाल पर सख्त जेटली

नई दिल्ली. पंजाब के पूर्व मंत्री और अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया, केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता नितिन गडकरी और कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल से अपने अनर्गल आरोपों के लिए माफी मांगने के बाद चर्चा है कि अरविंद केजरीवाल वित्त मंत्री अरुण जेटली को माफीनामा भेजेंगे.

हालांकि खबरों के मुताबिक़ अरुण जेटली केजरीवाल के माफीनामे को कबूल नहीं करेंगे. फिलहाल केजरीवाल द्वारा अरुण जेटली को कोई माफीनामा भेजने की खबर नहीं है.

जानकारी के मुताबिक आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल के वकील इस केस से जुड़े अरुण जेटली के वकीलों से संपर्क में हैं.

आम आदमी पार्टी की नेता अल्का लांबा ने कहा है कि “अरविंद केजरीवाल की माफी से दिल्ली संतुष्ट है. केजरीवाल की सोच थी कि माफी मांगने से कोई छोटा नहीं होता है और दिल्ली के हित को देखते हुए माफी मांगने में कुछ भी गलत नहीं है.”

जेटली के माफी न देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि किसी से जबरदस्ती माफी नहीं ले सकते हैं, जेटली साहब को स्वीकार नहीं है, तो ठीक है.

उल्लेखनीय है कि आम आदमी पार्टी के नेताओं ने अरुण जेटली पर डीडीसीए के अध्यक्ष पद पर रहते हुए भ्रष्टाचार करने के आरोप लगाए थे. इसके बाद वित्त मंत्री जेटली ने आप नेताओं के खिलाफ 10 करोड़ रुपए की मानहानि का केस दर्ज कराया था.

जेटली ने केजरीवाल के अलावा आशुतोष, कुमार विश्वास, संजय सिंह, राघव चड्ढा और दीपक बाजपेयी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा किया था.

इसके बाद जेटली ने केजरीवाल पर मानहानि का दूसरा मामला भी दर्ज कराया था. ये नया मामला केजरीवाल के वकील राम जेठमलानी की ओर से जेटली के लिए आपत्तिजनक शब्‍द इस्‍तेमाल करने के कारण हुआ है.

पटियाला हाउस कोर्ट में चल रहे पिछले 10 करोड़ की मानहानि के मुकदमे के दौरान जेठमलानी ने जेटली के लिए ‘क्रुक’ शब्‍द का इस्‍तेमाल किया था.

दोनों मामलों पर कोर्ट में कई बार पेशी हो चुकी है. दोनों से सवाल-जवाब भी हो चुके हैं. लेकिन, फिलहाल कोर्ट ने कोई फैसला नहीं सुनाया है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY