सोशल मीडिया के भरोसे नहीं हैं मोदी, मई से शुरू होगा नए प्लान पर काम

अब सोशल मीडिया से विरक्ति होने लगी है. 5-6 साल पहले नए लोग से जुड़ना, पुराने पहचान वाले लोगों से वापस जुड़ना… सबसे बड़ा उपलब्धि कि नाते रिश्तेदारों और दोस्तों से निकटता हो गई.

फिर आया 2013 के मध्य में मोदी का दिल्ली के SRCC (Shri Ram College of Commerce) में दिया गया ऐतिहासिक भाषण जिसने कांग्रेस आदि को संभलने का मौका ही नहीं दिया…

बहुत तगड़ी प्लानिंग थी भाजपा, संघ और टीम मोदी की… उस भाषण को टीवी न्यूज़ चैनल, फेसबुक, ट्विटर आदि सब पर वायरल किया गया.

सोशल मीडिया पर लोगों को न सिर्फ इलेक्ट्रॉनिकली बल्कि अनजान लोगों से मिल मिल कर और दौरे कर कर के मोदी को जिताया…

मुझे ABP, NDTV, कैराली, Sun आदि पर अब हंसी आती है कि इन घोर संघ विरोधी और कम्युनिष्ट लोगों का मोदी ने गज़ब इस्तेमाल कर दिया… इनका बस चले तो वो उस लाइव टेलीकास्ट से जुड़े हर कण को जला डालें…

अब आज के समय में उनमें से अधिकतर लोग इस गुमान में जी रहे हैं कि उन्होंने 2014 मोदी को ज़िता दिया… जबकि इसके उलट मोदी ने आप लोगों के जरिए जीत सुनिश्चित की…

इन लोगों का गुमान उतरा नहीं है… और मुझे पता नहीं कि मोदी इन लोगों के भरोसे हैं या नहीं…

मेरी समझ और पिछले चुनावों का मेरा विश्लेषण, मोदी के काम का तरीका मुझे संकेत दे रहा है कि मोदी इस बात को समझ रहे है कि ये सोशल मीडिया एक्सपर्ट हरवा के ही दम लेंगे, फिर दांत चियार के विश्लेषण करेंगे हार का…

इसके लिए मोदी ने जरूर प्लान कर रखा होगा और वो प्लान मई के अंत तक एक्सीक्यूट होना चाहिए.

जिनको मेरे ऊपर लिखे से सहमति नहीं है वो गुजरात चुनाव के समय की मेरी पोस्ट पढ़ लें जिसमें मैंने लिखा था कि अमित शाह और टीम मोदी गुजरात में सोशल मीडिया के बड़बोले लोगों के भरोसे चुनाव नहीं लड़ रही क्योंकि वो तो 150 सीट दे रहे हैं… मोदी और अमित शाह 100 सीट के लिए लड़ रहे हैं… इसीलिए मोदी ने खुद 40 के उपर रैली की थी…

थोड़ा पीछे जाकर उत्तरप्रदेश चुनाव भी देख लें… बनारस में मोदी ने यूँ ही डेरा नहीं डाला था… मोदी के उन 3 दिन ने फ़िज़ा बदली थी… किसी बनारस में रहने वाले बनारसी से पूछ लेना… किसी सपाई या काँग्रेसी से पूछ लेना वो सही बताएंगे कि मोदिया लूट लिहलस…

फिलहाल सोशल मीडिया के शूरवीर ज़ोर-शोर से ख्वाब में जी रहे हैं कि वो पोस्ट लिख के 400, 500, हज़ार लाइक खाके 2019 फतह कर लेंगे…

इस बार लड़ाई में अपना योगदान सिर्फ सोशल मीडिया से ही नहीं सही फीडबैक देकर करें… हर बात पर ‘वाह वाह’ वाले ख़ास ध्यान दें…

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY