पूर्वोत्तर भी हुआ भगवा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वोत्‍तर राज्‍यों के लोगों को आश्‍वस्‍त किया है कि सरकार इस क्षेत्र के विकास को नई ऊंचाइयों पर छू ले जाएगी. त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय विधानसभा चुनावों के परिणाम घोषित होने के बाद नई दिल्‍ली में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि पूर्वोत्‍तर क्षेत्र भारत को विकास के पथ पर ले जाने के लिए आगे आया है.

उन्‍होंने कहा कि वास्‍तु शास्‍त्र में कहा गया है कि पूर्वोत्‍तर किसी मकान का केन्‍द्र होता है और पूर्वोत्‍तर को ध्‍यान में रखकर योजनाएं बनाई गई हैं. उन्‍होंने कहा कि इसके साथ ही पूर्वोत्‍तर क्षेत्र देश की विकास यात्रा का नेतृत्‍व करेगा.

श्री मोदी ने कहा कि अस्‍त होने के समय सूर्य लाल होता है और यह जब उदय होता है तो यह केसरिया हो जाता है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि चुनावों में हार जीत होना लोकतंत्र का हिस्‍सा है और यही इसकी खूबसूरती है. उन्‍होंने कहा कि खेल भावना के साथ अपनी हार को स्‍वीकार करना चाहिए. वामदलों पर भय, हिंसा और भ्रम फैलाने का आरोप लगाते हुए श्री मोदी ने कहा कि त्रिपुरा ने बैलेट के जरिए उनको सटीक जवाब दिया है.

उन्‍होंने कहा कि भाजपा की विचारधारा के लिए कई कार्यकर्ताओं ने बलिदान दिया है. श्री मोदी ने कहा कि जब विपक्षी पार्टियां चुनाव में सामना नहीं कर सकीं तो निकृष्‍ट काम करती हैं. केरल, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में भाजपा के 24 से ज्‍यादा कार्यकर्ताओं की हत्‍या कर दी गई है. उन्‍होंने राजनीतिक दलों से लोगों का जनादेश स्‍वीकार करने और बदले की राजनीति नहीं करने को कहा.

श्री मोदी ने कहा कि पूर्वोत्‍तर के लोग यह समझते थे कि दिल्‍ली उसने बहुत दूर है लेकिन भाजपा दिल्‍ली को उनके दरवाजे पर लेकर आई है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपने सबसे छोटे आकार में सिमट गई है. दूसरी पार्टियों के लिए विशेषकर, भाजपा के लिए यह एक सबक है. उन्‍होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि कांग्रेस की संस्‍कृति भाजपा में नहीं घुसनी चाहिए.

श्री मोदी ने कहा कि एक समय था जब भाजपा का देश के बहुत सारे हिस्‍सों में सांगठनिक ढांचा नहीं था लेकिन आज देश के हर कोने में मौजूद है. यह पार्टी के लाखों कार्यकर्ताओं के निस्‍वार्थ कड़े परिश्रम का परिणाम है.

एक मिनट के मौन रखकर उन्‍होंने विचार धारा के लिए बलिदान करने वाले पार्टी कार्यकर्ताओं को श्रद्धाजंलि दी.

प्रधानमंत्री ने तीनों राज्‍यों में शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव कराने के लिए चुनाव आयोग और सुरक्षा बलों की सराहना की.

भारतीय जनता पार्टी के अध्‍यक्ष अमित शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी की पूर्वोत्‍तर में जीत विकास और बेहतर काम की राजनीति की जीत है. उन्‍होंने कहा कि पार्टी अपनी इस जीत को बलिदान देने वाले कार्यकर्ताओं को समर्पित करती है.

इधर, भारतीय जनता पार्टी संसदीय बोर्ड ने त्रिपुरा, मेघालय और नगालैंड में पार्टी विधायक दल का नेता चुनने के लिए केन्‍द्रीय पर्यवेक्षक भेजने का फैसला किया है. बोर्ड की बैठक के बाद पार्टी नेता और केन्‍द्रीय मंत्री जे पी नड्डा ने कहा कि केन्‍द्रीय नितिन गडकरी और जुएल ओराम त्रिपुरा के पर्यवेक्षक होंगे. श्री जे.पी. नड्डा और पार्टी महासचिव अरूण सिंह को नगालैंड का पर्यवेक्षक नियुक्‍त किया गया है. केन्‍द्रीय राज्‍यमंत्री किरेन रिजिजू और के जे अल्‍फोंस को मेघालय का पर्यवेक्षक बनाया गया है.

संसदीय बोर्ड ने एक प्रस्‍ताव भी पारित किया जिसमें कहा गया है कि तीनों राज्‍यों में पार्टी की जीत हिंसा की हार और लोकतंत्र की विजय दर्शाती है. उन्‍होंने कहा कि सरकार पूर्वोत्‍तर राज्‍यों के विकास के लिए प्रतिबद्ध है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY