रोटोमैक घोटाला : कोठारी पिता-पुत्र गिरफ़्तार

नई दिल्ली. लगभग 3700 करोड़ रूपए के घोटाले में रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी और उनके बेटे राहुल कोठारी को गिरफ्तार कर लिया है.

इन दोनों को सात राष्ट्रीयकृत बैंकों के समूह से लिये गए 3,695 करोड़ रुपये के कर्ज का भुगतान नहीं करने के मामले में गिरफ्तार किया गया है.

इस मामले सीबीआई ने बुधवार को नई दिल्ली स्थित मुख्यालय में विक्रम कोठारी और बेटे राहुल से पूछताछ की थी.

इस मामले में सीबीआई ने 18 फरवरी को केस दर्ज किया था. शुरुआत में आंकलन था कि घोटाला करीब 800 करोड़ रुपये का है.

सीबीआई ने जब रोटोमैक ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड के खातों की जांच शुरू की तो यह खुलासा हुआ कि कंपनी ने कथित तौर पर बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, इंडियन ओवरसीज बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इलाहाबाद बैंक और ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स से भी कर्ज लिया है.

सीबीआई ने आरोप लगाया कि आरोपियों ने सात बैंकों से 2,919 करोड़ रुपये की रकम कर्ज के रूप में लेकर धोखाधड़ी की है. ब्याज की रकम और देनदारियों को जोड़ कर कंपनी के लिये कुल बकाया रकम करीब 3,695 करोड़ रूपये बैठती है.

धन शोधन संबंधी मामले की जांच के संबंध में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने देश में भूमि, समुद्र और हवाईअड्डों में सभी निकास द्वारों को सूचित कर दिया था ताकि कोठारी तथा उसके परिवार के सदस्य देश छोड़ कर नहीं जा सकें.

ईडी ने इस मामले में सबूत जुटाने के लिए उन्नाव और कानपुर सहित उत्तर प्रदेश में कई जगहों पर छापे भी मारे थे.

प्रवर्तन निदेशालय ने धनशोधन की रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत रोटोमैक कंपनी और उसके प्रमोटरों के खिलाफ 18 फरवरी को आपराधिक आरोप लगाए. यह आरोप, सीबीआई द्वारा उसी दिन दर्ज एक प्राथमिकी के आधार पर लगाए गए.

सीबीआई अधिकारियों के मुताबिक़ इससे पहले कोठारी से कानपुर में पूछताछ की गई थी. कानपुर में कोठारी का घर और उनकी कंपनी है.

सीबीआई अधिकारियों के अनुसार कोठारी, उनकी पत्नी साधना और पुत्र राहुल सभी रोटोमैक ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड में निदेशक हैं.

उन्होंने कथित तौर पर कर्ज में ली गई रकम का उस उद्देश्य के अलावा निवेश किया जिसके लिये वह ली गई थी.

सीबीआई अधिकारियों ने कहा कि सात राष्ट्रीयकृत बैंकों के समूह में से एक बैंक ऑफ बड़ौदा ने सीबीआई से कोठारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का अनुरोध किया था क्योंकि उसे डर था कि कोठारी देश छोड़कर जा सकते हैं.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY