तिल की देसी लाई

सर्दियों में शरीर को गर्माहट देने के लिए गर्म तासीर लिए भोज्य पदार्थों का उपयोग करना चाहिए. सो इसी कड़ी में प्रस्तुत शीतलहरी स्पेशल तिल की देसी लाई.

सामग्री

सफेद तिल – 2 किलो
गुड़ – 2 किलो
अदरक – 250 ग्राम
गोंद – 250 ग्राम

विधि

तिल को गर्म कड़ाही में उला लेंगे. यानी बिना तेल घी के ही गर्म कड़ाही में चटकने तक भून लेंगे.

अदरक को साफ कर के कद्दू कस कर लेंगे.

गोंद को भी उला कर चूर कर लेंगे.

एक कड़ाही में हल्के पानी में गुड़ को गर्म करके उसका पाग बनाएंगे. पाग के सही अंदाज के लिए खौलते हुए घोल की दो चार बूंदें एक कटोरी ठंडे पानी में टपकाएँगे.

उन बूंदों को अंगुलियों पर उठाने से यदि वे गोल होकर बंधने लगें तो समझ लीजिए कि पाग तैयार है.

बिना समय बर्बाद किये हुए आँच बन्द कर के इस पाग में बाकी की सभी तैयार सामग्रियां डाल कर मिलाएंगे. हाथों को ठंढे पानी में डुबो डुबो कर गर्म गर्म तिलों को लाई के गोले की शक्ल देते जाएंगे.

ये लाई रोज एक खाने से शरीर का तापमान बैलेंस रहेगा और सर्दी से बचाव होगा.

– कल्याणी मंगला गौरी

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY