प्रेम ग्रंथ : आंसुओं का नमक और मुहब्बत का शहद लिए एक कहानी

लड़की और लड़का पांच साल से एक दूसरे के साथ थे, प्यार में थे और खुश थे. एक दिन लड़की ने लड़के से सकुचाते हुए कहा”सुनो ,तुमसे कुछ कहना था. कैसे कहूँ ?’ लड़का किचिन में रोटियां बेलते बेलते एक पल को रुका और रोटी पलटते हुए बोला “ठीक ऐसे ही कह डालो जैसे गुडनाइट, … Continue reading प्रेम ग्रंथ : आंसुओं का नमक और मुहब्बत का शहद लिए एक कहानी