कांग्रेस शायद भूल गयी है

किसी भी कीमत पर भाजपा को रोका जाए इसके लिए…

यूपी में जब बसपा नारा लगा रही थी ‘तिलक तराजू और तलवार, इनको मारो जूते चार’, तब कांग्रेस उसकी बलैय्या ले रही थी.

कांग्रेस उस पर इस कदर निहाल हो रही थी कि तब 425 में से 300 सीटें उसको देकर खुद केवल 125 सीटों पर चुनाव मैदान में उतरी थी.

नतीजा आज सामने है. उत्तरप्रदेश में कांग्रेस राजनीति के कूड़ेदान में सबसे नीचे पड़ी हुई है.

बिहार में जब लालू नारा लगा रहा था कि ‘भूरा बाल साफ करो’ तब उस नारे के समर्थन में कांग्रेस झूमकर लौंडा डांस कर रही थी.

नतीजा आज सामने है. बिहार में कांग्रेस राजनीति के कूड़ेदान में सबसे नीचे पड़ी हुई है.

कांग्रेस शायद यह भूल गयी है कि जयचंद को मुहम्मद गौरी ने और मीर जाफर को अंग्रेजों ने ही मौत के घाट उतारा था.

महाराष्ट्र से आ रही खबरों को देखने सुनने के बाद यूपी, बिहार और वहां कांग्रेस की करतूतों के किस्से याद आ गए.

मेरी बात आज नोट कर लीजिए. महाराष्ट्र से भी कांग्रेस के सफाये की पटकथा 1 जनवरी 2018 से लिखी जाना प्रारम्भ हो गयी है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY