सलमान जन्मोत्सव : कुछ रूहें हमेशा वर्जिन ही रहती हैं

सलमान, जिनका ज़िक्र बाद में आता है उसके पहले उनकी असफल प्रेम कहानियाँ पहले चली आती हैं.

सलमान जिनके जीवन में बहुत सारी लड़कियां आई लेकिन उनके जीवन में कोई ठहर न सकी. ठहर सकती भी नहीं थी. सलमान का जीवन पहाड़ की चढ़ाई जैसा कठिन है जहाँ से वो खुद कभी भी फिसल सकते हैं. ये अलग बात है कि मुझे पूरा यकीन है वो कभी फिसलेंगे भी नहीं. क्योंकि कुछ लोगों के सर पर पिछले जन्मों की तपस्या का पुण्य आशीर्वाद रहता है. इसलिए कुछ कर्मों के हिसाब से उसे जहाँ पीड़ा मिलती है तो कुछ कर्मों के हिसाब से वो बहुत बड़ी बड़ी समस्याओं से बचा लिया जाता है.

हाँ आप उसे राजनैतिक दांवपेच या पैसों की ताकत कह सकते हैं, लेकिन ये चीज़ें मिलना भी तो पिछले जन्मों के कर्मों का प्रताप ही होता है. वरना संजय दत्त तो नहीं बच पाए.

खैर तो वो किस कारण से बड़ी बड़ी परेशानियों से बच जाते हैं ये अलग मुद्दा है लेकिन वो हर बार सुरक्षित निकल आते हैं ये बहुत बड़ा सत्य है. तो ऐसी पहाड़ चढ़ने जैसी ज़िंदगी जीने वाले के साथ चलने की ताकत हर किसी में नहीं होती. एक सीमा के बाद साथ वाला फिसल ही जाता है.

और यही सलमान इतनी सारी समस्याओं को अपनी पीठ पर लादे हुए भी लगातार चढ़ते ही जा रहे हैं. और इसे आप उनके फ़िल्मी करियर या सामाजिक नज़रिए से नापी जाने वाली सफलता से मत नापिए.

और यही सलमान इतनी सारी प्रेम कहानियों और प्रेमिकाओं के होते हुए भी एक इंटरव्यू में पिता के सामने यह बयान देते हैं कि “हां मैं अभी भी वर्जिन हूँ” तो मैं उनकी इस बात पर रत्ती भर भी शंका नहीं करती. क्योंकि जीवन में चाहे कितनी ही लड़कियां आई हों… कुछ रूहें हमेशा वर्जिन रहती हैं…

सामाजिक रूप से आपके लिए वर्जिनीटी की परिभाषा अलग हो सकती है इसलिए आप आपत्ति जताने के लिए स्वतन्त्र है लेकिन मैं जिस वर्जिनीटी की बात करती हूँ वहां भौतिक दुनिया के नियम लागू नहीं होते.

जहां तक उनके अभिनय की बात की जाए सूरज बड़जात्या से अधिक उनको कोई इतनी सुन्दर तरीके से प्रस्तुत नहीं कर सका. उनके “प्रेम” की छवि ही मुझे सलमान का वास्तविक रूप लगता है बावजूद इसके कि कई अभिनेत्रियों के साथ उनकी मारपीट की खबरें भी प्रकाश में आई हैं.

प्रेम एक वास्तविक चरित्र है जो सलमान के साथ एकाकार होता है लेकिन उसके उस प्रेम के साथ एकाकार होने वाला उसे कोई नहीं मिला इसलिए उनके बाहरी स्वरूप के साथ ही लोग जूझते रहे और अलग होते रहे… और सलमान का वास्तविक प्रेम वर्जिन रह गया.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY