25 दिसंबर को नहीं, 28 मार्च को जन्मे थे ईसा मसीह!

वैज्ञानिकों एवं बाइबिल विश्लेषकों के अनुसार ईसा मसीह के जन्म की सही तारीख 28 मार्च है, न कि 25 दिसम्बर.

बाइबिल में दिए गए अनेक प्रमाणों से यह बात सिद्ध होती है. लुका 2-5,7 के अनुसार ईसा के जन्म के दिनों में गड़रिये भेड़ चरा रहे थे और खेतों में पक्षी थे. इज़राइल में ऐसा होना मार्च के महीने में ही संभव है, दिसम्बर में नही.

लुका 2-1,4 के अनुसार रोमन जनगणना हेतु ईसा के माता पिता बेलथेहम आये थे जहाँ ईसा का जन्म हुआ. रोमन राज्य में मार्च ही जनगणना का महीना होता था.

लुका 1-24, 26-36 के अनुसार जॉन का जन्म ईसा से 6 माह पूर्व हुआ जब जेरुसलम मंदिर में अबीजाह त्योहार मनाया जा रहा था.

जॉन के पिता जकर्याह और माता एलिजाबेथ मंदिर आये हुए थे. उक्त त्योहार सितंबर में पड़ता है. इस तरह से भी ईसा मसीह के जन्म मार्च में होना ज्ञात होता है.

उत्तरी अफ्रीका 248 AD में प्राप्त एक रोमन शिलालेख में ईसा मसीह के जन्मदिन गुरुवार 28 मार्च बताया गया है. जो बाइबिल की घटनाओं से मेल खाता है.

बेलथेहम का तारा या पूर्व का तारा, जन्म के पूर्व चंद्रग्रहण, यहूदियों के पर्व Feast of Tabernacles के एस्ट्रोनॉमिकल अध्ययन से भी ईसा मसीह का जन्म मार्च में सिद्ध होता है.

फिर उनका जन्मदिन 25 दिसम्बर को क्यों मानते है?

हुआ ये था कि रोम में ईसाई धर्म आने से पूर्व रोमन लोग 25 दिसम्बर को सूर्य भगवान का जन्मदिन मानते थे. 440 AD में रोमन चर्च ने इस त्योहार को ईसा मसीह के जन्म दिन के रूप में मनाने की घोषणा कर दी. यह परंपरा आज तक चली आ रही है.

(see – Jeffery Sheler, U.S. News & World Report, “In Search of Christmas,” Dec. 23, 1996, p. 58).

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY