गुजरात : भाजपा की अब तक की सबसे अ-साधारण विजय

भाजपा की यह विजय असाधारण है, यह मैराथन विजय है.

सैकड़ों वर्ष पूर्व मैराथन-युद्ध में एथेंस के नागरिकों के हित में लड़ते हुए जनरल मिल्तिएद ने अपने से कई गुना विशाल पर्सियन सेना को पराजित किया था.

उसी तरह इस चुनाव में मोदी-नेतृत्व में भाजपा ने विपक्षियों के छल-कपट, जातिवादी-हथकंडों, मोदी के आर्थिक-सुधारों पर दुष्प्रचार व अफवाह, और मोदी पर असभ्य वक्तव्यों के हमलों आदि को नाकाम करते हुए गुजरात की जनता के हाथों में विजय का उपहार सौंपा.

गुजरात की जनता ने गुजरात हित में कई राजनीतिक परम्पराओं को सकारात्मक रूप में पलट दिया.

बाईस सालों की ‘एंटी इनकम्बेंसी’ को भूल कर, ‘जी.एस.टी’ के अल्पकालिक प्रभावों से परे दीर्घकालिक-लाभ को पहचान कर, राष्ट्रहितकारी पुनःमुद्रण के अति अल्पकारी असुविधाओं को स्वीकार कर के, काँग्रेस के छद्म-धर्मनिरपेक्षता के भुलावे में न आ कर के, और कोंग्रेस की जाति-आधारित राजनीति को दरकिनार कर के जनता ने भाजपा को छठी बार शासन सौंपा.

सनद रहे कि मीडिया पर वर्षों के दुष्प्रचार के बावजूद मोदी जनता के बीच सर्वाधिक लोकप्रिय होते चले गए, ठीक उसी तरह जिस तरह सत्तर के दशक में मीडिया के द्वारा बॉयकॉट के बावजूद महानायक अमिताभ बच्चन लोगों के बीच सर्वाधिक लोकप्रिय होते चले गए थे.

न्यूटन के सदियों पुराने पारंपरिक सिद्धांतों से एकदम अलग जब एक क्लर्क आइंस्टीन ने ‘सापेक्षता’ का सिद्धांत दिया तो दुनिया ब्रम्हांडीय-सत्य के निकटतर आ गयी.

उसी तरह सत्तर सालों की सड़ी-गली सामंती राजनैतिक परम्पराओं को पलटते हुए जब मोदी राजनीति के पटल पर आये तो ताजी हवा की तरह उनके बहुआयामी व स्वागत योग्य गैर-पारंपरिक सामाजिक-राजनीतिक कदमों ने समाज के प्रत्येक हिस्से को विकास के और निकट लाने में अहम् भूमिका निभाई है.

यही कारण है कि राजनेता के रूप में मोदी जनता के बीच सबसे जनप्रिय जनसेवक बन कर उभरे हैं.

यकीन मानिए, सिद्धान्तहीन विपक्षियों के स्तरहीन हमलों और हथकंडों से जनरल मिल्तिएद की तरह लड़ते हुए प्राप्त की गयी भाजपा की साधारण बहुमत वाली यह विजय दरअसल गुजरात में भाजपा की अब तक की सबसे अ-साधारण विजय है. यह परिपक्व होते भारतीय लोकतंत्र की विजय है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY