इंग्लैण्ड में पद्मावती : डॉलर-पाउंड के लोभ में रुपए न गंवा दें भंसाली

इंग्लैंड ने ‘पद्मावती’ की रिलीज की अनुमति दे दी है. वहां ‘पद्मावती’ को 1 दिसंबर को रिलीज करने की इजाजत मिल गई है.

संजय भंसाली की फिल्‍म ‘पद्मावती’ को लेकर भले ही भारत में जबरदस्‍त विरोध हो रहा है, लेकिन ब्रिटिश सेंसर बोर्ड ने फिल्‍म को हरी झंडी दिखा दी है.

भारत में गुजरात, मध्यप्रदेश, राजस्थान और पंजाब ने भंसाली को ना कह दिया है. ब्रिटिश बोर्ड ऑफ फिल्‍म सर्टिफिकेशन (बीबीएफसी) ने बिना किसी कट के पास कर दिया है.

ऐसे में भंसाली की स्थिति विचित्र हो गई है. ‘पद्मावती’ यदि अभी विदेश में प्रदर्शित हो गई तो सारी कथा-कहानी बाहर आ जाएगी.

एक मुश्किल ये भी है कि इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया में प्रदर्शित होते ही फ़िल्म की पाइरेटेड सीडी पलक झपकते भारत पहुंच जाएगी.

आखिर करे तो क्या करे भंसाली. डॉलर और पाउंड कमाए तो रुपयों का मोह छोड़ना पड़ेगा.

यदि अभी इंग्लैंड में प्रदर्शित नहीं करते तो आगे की कोई गारंटी नहीं. आसमान से गिरे और खजूर में भी नहीं अटके, सीधा जमीन पर आ गिरे.

इंग्लैण्ड के बीबीएफसी ने 1 दिसंबर को यूनाइटेड किंगडम में आधिकारिक रिलीज के लिए फिल्म को पारित किया है. यूके में ‘पद्मावती’ को 12A सर्टिफिकेट दिया है. इसका मतलब यह है कि इस फिल्‍म को 12 साल और उससे ऊपर की उम्र वाले लोग देख सकते हैं.

बीबीएफसी ने ‘पद्मावती’ को सर्टिफिकेट देते हुए फिल्‍म के बारे में लिखा कि यह एक हिंदी भाषा की एपिक ड्रामा फिल्‍म है, जिसमें एक सुल्तान, राजपूत रानी को पकड़ने के लिए आक्रमण करता है.

हालांकि ऐतिहासिक तथ्यों के साथ कथित तौर पर छेड़छाड़ के आरोप में रूढ़िवादी समूहों के विरोध के बाद फिल्म की रिलीज डेट को भारत में टाल दिया गया है. लेकिन भंसाली ने बार-बार ऐतिहासिक तथ्‍यों से छेड़छाड़ करने से इनकार किया है.

फिल्म में दीपिका पादुकोण ने रानी पद्मावती का मुख्‍य किरदार निभया है. शाहिद कपूर महाराज रतन सिंह और रणवीर सिंह सुल्तान अलाउद्दीन खिलजी के रोल में हैं.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY