भूमिगत परमाणु परीक्षण के बाद उत्तर कोरिया में सुरंग ढही, 200 की मौत

टोक्यो. उत्तर कोरिया की परमाणु परीक्षण साइट पंगी-री पर एक सुरंग के ढहने से 200 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है.

जापानी मीडिया के हवाले से आई इस खबर के मुताबिक़ 3 सितंबर को उत्तर कोरिया ने छठवां और सबसे बड़ा अंडरग्राउंड न्यूक्लियर टेस्ट किया था.

जापान के आशाई टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक यह हादसा पिछले माह उस समय हुआ जब एक हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया जा रहा था.

सुरंग उस समय ढह गई जब उत्तर पूर्वी हिस्से में स्थित पंगी-री में इसका निर्माण कार्य चल रहा था. चैनल ने अपनी रिपोर्ट में उत्तर कोरिया के सूत्रों का हवाला दिया है.

चैनल ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि शुरुआत में करीब 100 मजदूर वहां फंसे थे. इसके बाद राहत और बचाव कार्य के दौरान सुरंग का एक और हिस्सा ढह गया. इसके चलते 200 से ज्यादा लोगों की जान चली गई.

टीवी चैनल के मुताबिक, परमाणु परीक्षण के चलते ही हादसे के हालात पैदा हुए.

विशेषज्ञों ने चेतावनी भी दी थी कि अंडरग्राउंड टेस्ट्स की वजह से पहाड़ गिर सकता है और चीन बॉर्डर के नजदीक रेडिएशन लीक हो सकता है.

इस न्यूक्लियर टेस्ट साइट पर 2006 से लेकर अब तक 6 परीक्षण किए जा चुके हैं.

3 सितंबर को हुए छठवें परीक्षण के एक दिन बाद सैटलाइट से ली गईं तस्वीरों के मुताबिक, विस्फोट के चलते इलाके में कई भूस्खलन हुए.

धमाके के चलते पहले 6.3 तीव्रता का भूकंप आया और फिर कुछ मिनटों बाद 4.1 तीव्रता के एक और भूकंप आया था.

जापान के आंकलन के मुताबिक, उत्तर कोरिया ने 3 सितंबर को जिस हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया था, वह 1945 में हिरोशिमा पर गिराए गए परमाणु बम से आठ गुना ज्यादा शक्तिशाली था.

टीवी चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक माना जा रहा है कि परीक्षण के बाद यहां की जमीन ढीली और कमजोर हो गई थी.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY