‘परिवार के साथ दिवाली मनाना चाहता हूँ, इसलिए सैनिकों के बीच आता हूँ’

श्रीनगर. इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्‍मीर के गुरेज सेक्‍टर में जवानों के साथ दिवाली मनाई. प्रधानमंत्री यहां सुबह करीब पौने ग्यारह बजे पहुंचे और उन्‍होंने यहां करीब दो घंटे जवानों के बीच बिताए. गुरेज सेक्टर प्रदेश में नियंत्रण रेखा के समीप स्थित है.

यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैनिकों से कहा कि ‘मैं परिवार के साथ दिवाली मनाना चाहता था. आप सब मेरे परिवार की तरह हैं. सैनिकों के साथ दिवाली मनाने से नई ऊर्जा आती है.’

प्रधानमंत्री ने सैनिकों ने कहा कि ‘न्‍यू इंडिया बनाने में सेना की भी बड़ी भागीदारी है’. इसके साथ ही उन्‍होंने हर सैनिक को बहादुरी और समर्पण का प्रतीक बताया. सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत, उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अनबू और चिनार कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल जे एस संधु भी प्रधानमंत्री के साथ गुरेज सेक्टर पहुंचे.

उल्‍लेखनीय है कि प्रधानमंत्री बनने के बाद साल 2014 में उन्होंने सियाचिन में सेना के जवानों के साथ दिवाली मनाई थी. इसके बाद 2015 में डोगराई वार मेमोरियल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवानों के साथ त्योहार मनाया था, जबकि पिछले साल यानी 2016 में दिवाली के मौके पर प्रधानमंत्री हिमाचल प्रदेश में आईटीबीपी जवानों के बीच गए थे.

साल 2014 – बतौर प्रधानमंत्री ये नरेंद्र मोदी की पहली दिवाली थी. पीएम मोदी ने जम्मू कश्मीर के सियाचिन पहुंचकर जवानों के साथ दिवाली मनाई. 20 हजार फीट की ऊंचाई पर मौजूद दुनिया के सबसे ऊंचे रणक्षेत्र जहां पर तापमान माइनस पचास डिग्री होता है. शून्य से पचास डिग्री नीचे तक पहुंच जाता है वहां हमारे वीर जवान तैनात रहते हैं. पीएम के जाने से जवानों में एक नया जोश भर गया.

साल 2015 – पीएम मोदी दिवाली मनाने दोबारा जवानों के बीच पहुंचे.. इस साल पीएम मोदी ने पंजाब में अमृतसर के डोगराई वॉर मेमोरियल में दिवाली मनाई. यहां पर मौजूद जवानों के साथ उन्होंने पूरे जोश के साथ इस पर्व को मनाया.

साल 2016 – प्रधानमंत्री मोदी दिवाली पर एक बार फिर जवानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े नजर आए. पीएम मोदी दिवाली मनाने हिमाचल के किन्नौर पहुंचे और आईटीबीपी, सेना और डोगरा स्काउट के साथ दिवाली का जश्न का मनाया.

वहीं, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी अंडमान-निकोबार में तीनों सेनाओं के कमान के साथ दिवाली मनाएंगी. सीतारमण आज से दो दिन के दौरे पर अंडमान-निकोबार पर हैं. इस मौके पर वह विभिन्न समारोहों के दौरान जवानों के परिजन से बातचीत भी करेंगी.

रक्षा मंत्री के आगमन पर अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के लेफ्टिनेंट गवर्नर एडमिरल (सेवानिवृत्त) डी. के. जोशी और अंडमान एवं निकोबार कमान के कमांडिंग-इन-चीफ वाइस एडमिरल बिमल वर्मा ने आईएनएस उत्कर्ष में उनका स्वागत किया.

अंडमान निकोबार कमान के सैनिकों द्वारा उन्हें संयुक्त सेवा सम्मान गारद प्रस्तुत किया गया. इसके बाद, अंडमान निकोबार कमान के मुख्यालय के दौरे के दौरान रक्षा मंत्री को सुरक्षा स्थिति और कमान के बल दिए जाने वाले क्षेत्रों की जानकारी दी गई.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY