देवबंद का फतवा, सोशल मीडिया पर अपनी फोटो नहीं लगा सकतीं महिलाएं

देवबंद. मुस्लिम महिलाओं के फोटों को फेसबुक, वॉट्सऐप, ट्विटर आदि सोशल साइट पर लगाने के खिलाफ देवबंद ने फतवा जारी किया है. देवबंद के भतवा विभाग के तारिक कासमी ने कहा कि इस्लाम महिलाओं की फोटो लगाने की इजाजत नहीं देता है. इसीलिए सोशल साइट पर मुस्लिम महिलाओं के फोटो अपलोड नहीं करनी चाहिए.

बात दें कि एक शख्स ने दारुल उलूम देवबंद से इस संबंध में फतवा मांगा था कि क्या फेसबुक-वॉट्सऐप पर अपने या महिलाओं के साथ फोटो अपलोड करना जायज है? इस शख्स ने दारुल उलूम से ये जानना चाहा था कि अपनी और पत्नी की तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट करना गैर इस्लामी है या नहीं.

इस पर दारुल उलूम देवबंद के फतवा विभाग के मुफ्ती तारिक कासमी ने कहा कि इस्लाम मुस्लिम महिलाओं के फोटो सोशल साइट पर लगाने की इजाजत नहीं देता है. उन्होंने कहा कि इस्लाम में बिना जरुरत के फोटो खिंचवाना ही मुस्लिम महिलाओं-पुरुषों के लिए जायज नहीं है. ऐसे में फेसबुक-वॉट्सऐप पर फोटो अपलोड करना जायज नहीं हो सकता है.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले पिछले महीने देवबंद ने महिलाओं के आई-ब्रो बनवाने, बाल कटवाने को लेकर भी फतवा जारी किया था. जिसका चौतरफा विरोध हुआ था.

दारुल उलूम देवबंद में फतवों के लिए अलग से डिपार्टमेंट ऑनलाइन भी है. इस डिपार्टमेंट में लेटर भेजकर या ऑनलाइन फतवा लिया जा सकता है. लोग इस्लाम से जुड़े सवालों का जवाब भी इस डिपार्टमेंट से मांग सकते हैं.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY