अफगानिस्तान : सैन्य शिविर पर तालिबान का आत्मघाती हमला, 43 की मौत

काबुल. अफगानिस्तान के दक्षिणी कंधार प्रांत में एक सैन्य शिविर पर तालिबान के हमले में कम से कम 43 सैनिकों की मौत हो गयी. रक्षा मंत्रालय ने आज यह जानकारी दी. प्रवक्ता दौलत वज़ीर ने बताया कि कल की इस घटना में दो आत्मघाती कार बम विस्फोट हुए जिसके बाद घंटों मुठभेड़ चली.

वज़ीर ने बताया कि नौ अन्य सैनिक घायल हो गए तथा छह लापता हैं. उन्होंने कहा कि इस घटना में 10 हमलावर मारे गए हैं. तालिबान ने एक बयान जारी कर इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

अमेरिका और नाटो बलों ने 2014 के अंत में अपना युद्धक मिशन औपचारिक रूप से बंद कर दिया था. इसके बाद अफगान बलों को तालिबान का सामना करना पड़ रहा है जो फिर से मजबूत हुआ है.

अफगानिस्तान में सैनिकों को निशाना बनाते हुए किया गया यह तीसरा हमला है. कंधार के माइवांद जिले में कैंप पर हुए हमले में सिर्फ दो सैनिकों के सुरक्षित बचने की खबर है. रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि 9 सैनिक बुरी तरह जख्मी भी हुए हैं.

अफगान रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता दावलात वजीरी ने बताया कि हमलावरों ने एक वाहन को बम धमाके से उड़ा दिया, जिसके साथ पूरा कंपाउंड दहल गया. वजीरी ने कहा, ‘हमारा मानना है कि आतंकवादियों ने विस्फोटकों से लदे एक वाहन को मिलिट्री बेस के गेट पर उड़ा दिया.’ वजीरी ने कहा कि यह कैंप के अंदर अब कुछ भी नहीं बचा है. कैंप में मौजूद हर चीज को आतंकियों ने जला डाला.

तालिबान ने इस आतंकी हमले की पुष्टि की है. पत्रकारों को भेजे संदेश में तालिबान ने 60 सुरक्षाकर्मियों को मारने का दावा किया. रक्षा मंत्रालय का कहना है कि मुठभेड़ में सुरक्षाकर्मियों ने 10 आतंकियों को भी ढेर कर दिया है.

अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को तालिबान ने देश के विभिन्न हिस्सों में कई हमले किए थे जिनमें पुलिस परिसरों और सरकारी प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया था. उन हमलों में कम से कम 74 लोगों की मौत हो गयी थी.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY