सीरिया में अपनी स्वघोषित राजधानी राक्का से खदेड़े गए ISIS के आतंकी

दमिश्क. इराक और सीरिया में सक्रिय खूंखार आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) को राक्का शहर से सुरक्षा बलों ने खदेड़ दिया है. अमेरिका समर्थित कुर्दिश-अरब सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्स के मुताबिक सीरिया के राक्का शहर को आईएस के कब्जे से मुक्त करा लिया गया है. इस शहर को इस्लामिक स्टेट की राजधानी भी कहा जाता है.

चार महीने से अधिक समय तक संघर्ष के बाद इस्लामिक स्टेट के कब्जे वाले राक्का शहर पर पूरी तरह सुरक्षा बलों का नियंत्रण है. 6 जून को आईएस के कब्जे के बाद से इस उत्तरी शहर पर नियंत्रण पाने के लिए संघर्ष कर रहे कुर्दिश-अरब सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्स ने शहर में रह गए कुछ सौ आईएस लड़ाकों को खदेड़ दिया.

राक्का पर कब्जे के लिए चार महीने से अधिक समय तक चली इस लड़ाई में कम से कम 3,250 लोग मारे गए हैं. इनमें से एक तिहाई से अधिक आम नागरिक हैं. सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा कि जून की शुरुआत में अभियान शुरू होने के बाद से कम से कम 1130 नागरिक मारे जा चुके हैं. एसडीएफ के प्रवक्ता तलाल सेलो ने बताया कि राक्का में सब कुछ खत्म हो गया है. हमारे सैनिकों ने राक्का पर पूरी तरह कब्जा कर लिया है.

उन्होंने कहा, ‘राका में सैन्य अभियान समाप्त हो गया है, लेकिन वहां संभावित किसी भी स्लीपर सेल का पता लगाने और बारूदी सुरंगों को हटाने के लिए अभियान चल रहा है’. सेलो ने कहा कि शहर की आज़ादी की घोषणा जल्द आधिकारिक बयान जारी करके की जाएगी.

इसके अलावा इराकी बलों ने यजीदी शहर सिंजर को कुर्द बलों के कब्जे से मुक्त करा लिया है. अर्धसैन्य इकाइयों ने बताया कि स्वायत्त क्षेत्र के बाहर कुर्द बलों के कब्जे वाले इलाकों के खिलाफ अभियान चलाया गया.

ईरान प्रशिक्षित शिया मिलिशिया से बनी पॉप्युलर मोबिलाइजेशन फोर्सेज ने कहा कि कुर्द बलों को बिना लड़ाई के सिंजर से हटा दिया गया है. उत्तर पश्चिम शहर सिंजर कुख्यात है क्योंकि यहां इस्लामिक स्टेट ने बहुत अत्याचार किए. उसने वर्ष 2014 में हजारों यजीदी पुरुषों की हत्याएं की और महिलाओं को यौन गुलाम बना लिया था.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY